इंदौरा, संवाद सूत्र। 14 जुलाई को को अज्ञात लोगों द्वारा सुरडवां में तोड़े गए शिवलिंग व एक वर्ष पहले इंदौरा के कुडसां में तोड़े गए वैष्णों देवी मंदिर के तोड़े जाने बारे विश्व हिंदू परिषद व हिंदू समाज ने एसडीएम इंदौरा व पुलिस थाना इंदौरा को एक लिखित शिकायत पत्र सौंपा था। लेकिन आज तक प्रशासन द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं किए जाने के कारण अब विश्व हिंदू परिषद व हिंदू संगठन प्रशासन के खिलाफ मुखर हो गए हैं।

समस्त हिंदू समाज में इसका भारी रोष है। प्रशासन द्वारा कोई भी कार्रवाई न होने से नाराज विश्व हिंदू परिषद व अन्य हिंदू संगठनों ने इसका कड़ा संज्ञान लेते हुए यह निर्णय लिया कि दिनांक 30 जुलाई को समस्त हिंदू विश्व हिंदू परिषद के साथ एसडीएम इंदौरा का घेराव करेंगे।

यह बोले ब्राह्मण सभा मंडल इंदौरा के प्रधान

जब इस विषय पर ब्राह्मण सभा मंडल इंदौरा के अध्यक्ष प्रधान पंकज शर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हिंदूआस्था पर हो रहे यह प्रहार ब्राह्मण समाज कभी सहन नहीं करेगा और ब्राह्मण सभा मंडल इंदौरा विश्व हिंदू परिषद के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है और इस विरोध प्रदर्शन में ब्राह्मण समाज विश्व हिंदू परिषद का समर्थन करता है।

कृष्णा रामलीला क्लब इंदौरा ने शिवलिंग तोड़ने को कहा निंदनीय

कृष्णा रामलीला क्लब इंदौरा ने भी इस बात का कड़ा संज्ञात लेते हुए विश्व हिंदू परिषद के इस आंदोलन में शामिल होने की घोषणा की है। कृष्णा रामलीला क्लब इंदौरा के प्रधान उमाकांत सूदन ने बताया कि यह एक निंदनीय घटना है और हमारी आस्था पर प्रहार है।

Edited By: Richa Rana