मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

कुल्लू, जेएनएन। जिला कुल्लू के नग्गर में अनुसूचित जाति की महिला के शव को न जलाने देने के मामले में राज्यपाल के आदेश के बाद पुलिस कार्रवाई में जुट गई है। मनाली उपमंडल के तहत हुंरग पंचायत के धारा गांव में सार्वजनिक श्मशानघाट पर अनुसूचित जाति की महिला के शव का अंतिम संस्कार न करने देने के मामले में पुलिस ने रविवार को मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने ग्रामीणों से पूछताछ के बाद एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

तीन दिन पूर्व धारा गांव में महिला की मौत के बाद ग्रामीणों ने अनुसूचित जाति के लोगों को देवी-देवताओं के प्रकोप का हवाला देकर शव को श्मशानघाट में नहीं जलाने दिया था। इस मामले को लेकर दोनों पक्षों में काफी मन मुटाव चला रहा। मामला राज्यपाल तक जा पहुंचा है और राज्यपाल से आदेश मिलने के बाद पुलिस ने भी अपनी कार्रवाई तेज कर दी है।

विरोध में समाजसेवी ने शुरू किया अनशन

कुल्लू में सवर्ण जाति के लोगों द्वारा दलित महिला के शव को श्मशानघाट में न जलाने देने के मामले में समाजसेवी रवि कुमार अनशन पर बैठे गए हैं। शिमला स्थित बाबा साहिब भीम आंबेडकर की मूर्ति के नीचे रविवार शाम से अनशन पर बैठे रवि कुमार का कहना है जिला कुल्लू में इस तरह की घटनाएं अधिक देखने को मिल रही हैं। जब तक इस तरह के मामलों में संलिप्त लोगों को सजा नहीं दी जाती तब तक अनशन जारी रहेगा।

इस मामले को लेकर एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है और आगामी कार्रवाई जारी है। -शालिनी अग्निहोत्री, एसपी कुल्लू।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप