मनाली, जागरण संवाददाता। Tourists Destination Rohtang Pass, कुल्लू-मनाली की वादियों में पर्यटकों की भीड़ बढ़ने लगी है। सैलानियों की पहली पसंद रहने वाले 13050 फीट ऊंचे रोहतांग दर्रे में लंबे अरसे बाद रौनक लौटने लगी है। यहां पिछले कुछ दिनों से पर्यटकों का मेला लगने लगा है। हालांकि अटल टनल बनने के बाद रोहतांग दर्रे की महत्ता कम हुई है। लेकिन रोहतांग दर्रा अभी भी सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है।

मनाली के पर्यटन कारोबारी गौतम, प्रेम, रोशन, डोले राज व ओम प्रकाश का कहना है कि 14 अक्टूबर से मनाली में पर्यटकों का सैलाब उमड़ेगा। उन्होंने बताया पिछले कुछ दिनों से पर्यटकों की आमद में बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने उम्मीद जाहिर करते हुए कहा दशहरा सीजन में पर्यटकों का सैलाब उमड़ेगा और मंदी से उन्हें राहत मिलेगी।

रोहतांग के पर्यटन कारोबारी सुरेंद्र, नंद लाल व जगदीश ने बताया लंबे अरसे बाद रोहतांग में पर्यटकों से रौनक लौटी है। उन्होंने कहा पर्यटकों की आमद बढ़ने से उनका भी कारोबार चल पड़ा है। पर्यटक रोहतांग पहुंचकर घुड़सवारी करते हुए बर्फ के दीदार करने ऊंची चोटियों में पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ें: 900 रुपये में लाहुल के पर्यटन स्‍थलों की सैर करवाएगा पर्यटन निगम, मनाली से शुरू होगी लग्‍जरी बस सेवा

मनाली के ट्रेवल एजेंट सुरेश, प्रीतम व सोनू ने बताया दशहरा सीजन को लेकर बुकिंग चल रही है। उन्होंने उम्मीद जाहिर करते हुए कहा 14 अक्टूबर से मनाली में पर्यटन कारोबार रफ्तार पकड़ेगा।

यह भी पढ़ें: हिमाचल पर्यटन निगम के पांच होटलों में परोसी जाएगी स्पेशल नवरात्र थाली, शक्तिपीठों के पास की गई व्‍यवस्‍था

एसडीएम मनाली डाक्‍टर सुरेंद्र ठाकुर का कहना है पर्यटकों से आग्रह है कि प्रशासन से परमिट प्राप्त कर ही रोहतांग दर्रे का रुख करें। रोहतांग दर्रे पर पर्यटकों की आवाजाही मौसम की परिस्थितियों पर निभर रहेगी।

यह भी पढ़ें: मंडी का चुनावी रण: देशभक्त व देशद्रोही में बदला प्रचार, कन्हैया के खिलाफ इंटरनेट मीडिया पर पोस्टर वायरल

Edited By: Rajesh Kumar Sharma