धर्मशाला, जागरण संवाददाता। चार मार्च से शुरू होने वाली बोर्ड परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन इस दफा सरकारी स्कूलों में तैनात पीटीए शिक्षक भी करेंगे। स्थल मूल्यांकन केंद्रों में होने वाले मूल्यांकन कार्य के लिए स्कूल शिक्षा बोर्ड ने पीटीए शिक्षकों को भी शक्तियां दी हैं लेकिन इसके लिए कुछ मापदंड भी तय किए हैं। जमा दो की बोर्ड परीक्षाएं चार मार्च से 27 तक जबकि दसवीं की पांच से 19 मार्च तक होंगी। इसके लिए शिक्षा बोर्ड ने प्रदेशभर में 2227 केंद्र बनाए हैं।

उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन के लिए 53 स्थल मूल्यांकन केंद्र स्थापित किए गए हैं, जबकि इस बार पीटीए शिक्षक भी मूल्यांकन करेंगे। तय मापदंडों में परीक्षक के तौर पर उन्हीं पीटीए शिक्षकों की नियुक्ति होगी जो कि शिक्षा बोर्ड से संबद्धता प्राप्त विद्यालय में लगातार चार साल अध्यापन कार्य का अनुभव रखते हों। उधर, शिक्षा बोर्ड सचिव अक्षय सूद ने कहा कि उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य के लिए पीटीए अध्यापकों से भी आवेदन मांगे हैं और निर्धारित मापदंड पूर्ण करने वालों की ही सेवाएं ली जाएंगी।

इसके अलावा मिडिल, मैट्रिक व जमा दो परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं के परीक्षक की नियुक्ति के लिए सहमति पत्र भरने की तिथि को 10 मार्च तक बढ़ा दिया है। इसके लिए पात्र अध्यापक/प्राध्यापक निर्धारित तिथि तक संबंधित स्कूल की यूजर आइडी से आवेदन कर सकते हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस