संवाद सहयोगी, ज्वालामुखी : धार्मिक नगरी ज्वालामुखी में स्थित टेढ़ा मंदिर सहित आसपास के क्षेत्रों के अच्छे दिन आएंगे। अकबर नहर के जीर्णोद्धार के लिए भी कदम उठाए जाएंगे। मंदिर में सफाई कर्मियों के पद भरे जाएंगे। कर्मचारियों के लिए भवन सहित अन्य विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाया जाएगा। यह फैसला वीरवार को मंदिर न्यास ज्वालामुखी की बैठक में लिया गया। एसडीएम मनोज ठाकुर की अध्यक्षता में हुई बैठक में विधायक रमेश धवाला विशेष आमंत्रित सदस्य के रूप में उपस्थित रहे। बैठक में वित्तीय वर्ष के लिए 13.50 करोड़ रुपये का बजट पारित किया गया।

.....................

किस कार्य पर कितना होगा खर्च

प्राचीन भैरव मंदिर पर 30 लाख, टेढ़ा मंदिर में पानी के टैंक के लिए 15 लाख, लंगर भवन के पास कार्य के लिए 20 लाख, मंदिर में ग्रिल लगवाने पर 10 लाख, रंग-रोगन पर 10 लाख, टेढ़ा मंदिर के सुंदरीकरण और रास्तों के निर्माण के लिए 35 लाख व अकबर नहर के जीर्णोद्धार पर 15 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। मंदिर परिसर में संगमरमर बदलने के लिए 30 लाख, मंदिर की चारदीवारी के लिए 10 लाख, म्यूजियम और बकरों के लिए भवन बनाने के लिए 50 लाख, स्टाफ क्वार्टर के लिए 10 लाख व मंदिर के मुख्य भवन की छत के निर्माण के लिए 10 लाख रुपये के बजट का प्रविधान किया गया है। प्राकृतिक आपदाओं के लिए पांच लाख, नवरात्र उत्सव के लिए तीन लाख, रेडक्रास के लिए 10 लाख, यात्री सदन संचालन के लिए पांच लाख, भवन मरम्मत के लिए 50 लाख, धार्मिक व सांस्कृतिक आयोजन के लिए पांच लाख, गरीब लड़कियों की पढ़ाई के लिए पांच लाख रुपये की व्यवस्था की गई है।

...........................

मंदिर में बनाई जाएगी धर्मार्थ सराय

बैठक में मंदिर में एक धर्मार्थ सराय बनाने, मंदिर में विकलांग लोगों को दर्शन करवाने के लिए विशेष प्रविधान करने का भी निर्णय लिया गया है। विधायक रमेश धवाला ने कहा कि सभी फैसलों को मूर्त रूप प्रदान किया जाएगा।