शिमला, जागरण संवाददाता। राज्य के सरकारी स्कूलों में तैनात शिक्षकों को अब कोरोना वैक्सीनेशन के काम में ड्यूटी देंगे। यही नहीं होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों का हाल जानने से लेकर उन्हें दवाई भी पहुचायेंगे। शिक्षा विभाग की ओर से इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं। 23 अप्रैल को राज्य सचिवालय में आयोजित उच्चस्तरीय कमेटी के समक्ष स्वास्थ्य विभाग ने यह प्रेजेंटेशन दी थी। इसमें कहा गया था कि कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य जोरों पर है। अस्पतालों के अलावा अन्य केन्द्रों पर टीकाकरण किया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी कम पड़ रहे हैं।

1 मई तक स्कूल बंद है। ऐसे में शिक्षकों का सहयोग इस कार्य में लिया जा सकता है। विभाग ने इस पर सहमति जताई थी। जिस के बाद ये आदेश जारी हुए हैं। बुधवार से ही शिक्षकों को इस कार्य में लगा दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: विशेषज्ञ बोले, कोरोना पीक की ओर, हर्ड इम्यूनिटी के साथ जल्द आएगी गिरावट, स्वस्थ होने की दर बेहतरीन

यह भी पढ़ें: होम आइसोलेशन में सांस की दिक्कत के मरीजाें को मुफ्त आक्सीजन दे रही यह संस्था, दिल्ली व नोएडा से भी मांग

यह भी पढ़ें: Lockdown in India: देश के 150 जिलों में लॉकडाउन की आहट, संक्रमण के हालात पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी है सलाह