सिहुंता/कोटला, जऐनएन। जिला कांगड़ा और चंबा की सीमा पर संदिग्‍धों की सूचना ने पुलिस की खूब कसरत करवाई। चंबा जिले के सिहुंता क्षेत्र में शुक्रवार को तीन संदिग्ध व्यक्ति दिखने की सूचना से हड़कंप मच गया। कांगड़ा व चंबा पुलिस ने संयुक्त सर्च अभियान चलाया। छानबीन करने पर पता चला कि उक्त लोग ठेकेदार के साथ चिरानी का काम करने के लिए आए थे।

कोटला के सोलधा के साथ लगते चंबा जिले के जोलना में वीरवार शाम को भेड़-बकरियां चरा रहे गद्दी समुदाय के व्यक्ति ने बताया कि जंगल में उसे तीन संदिग्ध व्यक्ति मिले। संदिग्धों ने उससे पूछा कि वे किस समुदाय से संबंध रखते हैं। इसके बाद सिहुंता का रास्ता पूछा और मोबाइल फोन पर बात करते-करते चले गए।

उसने इसकी सूचना मालिक को दी, जिसने कोटला  पंचायत के प्रधान को दी। प्रधान से जानकारी मिलने के बाद कोटला पुलिस ने उच्चाधिकारियों को अवगत करवाया। रात का समय होने पर कुछ भी पता न लग पाया। शुक्रवार सुबह से देर शाम तक कांगड़ा व चंबा जिले की पुलिस संदिग्धों को तलाश करती रही। अंतत: पुलिस उन तक पहुंची तो पता चला कि वे ठेकेदार के साथ चिरानी का काम करने के लिए आए थे।

क्‍या कहते हैं दोनों जिला के पुलिस अधिकारी

  • संदिग्ध व्यक्तियों के बारे में सूचना मिली थी, जिसपर पुलिस ने सर्च अभियान चलाया। क्षेत्र के  लोग संदिग्ध व्यक्ति दिखाई देने पर तुरंत पुलिस को सूचना दें। -दिनेश कुमार, एएसपी कांगड़ा।
  • संदिग्ध देखे जाने की सूचना पुलिस को मिली थी, जिसके उपरांत चंबा तथा कांगड़ा पुलिस ने संयुक्त रूप से सर्च अभियान चलाया। लोगों की पहचान कर ली गई है। लोग अफवाह फैलाने से बचें। -डॉ. मोनिका, एसपी चंबा।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस