मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

शाहपुर, जेएनएन। पूर्व विदेश मंत्री एवं भाजपा की तेज तर्रार नेता सुषमा स्वराज के निधन से पूरे देश के साथ हिमाचल भी स्तब्ध है। सुषमा स्वराज जिला कांगड़ा के शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में दो बार आ चुकी हैं। पहली बार वे 2003 में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रदेश सरकार में वर्तमान शहरी विकास मंत्री सरवीण चौधरी के पक्ष में चुनावी रैली करने आई थी। सुषमा ने उस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए सरवीण के पक्ष में वोट देने की अपील करते हुए लोगों को खूब हंसाया भी था। सुषमा ने मंच से सरवीण के लिए कहा था 'धूमल जी आपने तो नई नवेली दुल्हन को टिकट देकर राजनीति में उतार दिया। अहम यह है कि सुषमा का छोटा कद होने के चलते उस समय डाइस बड़ा पड़ गया था। भाजपा कार्यकर्ताओं ने आनन-फानन में चौकी का इंतजाम किया तथा उसके बाद उन्होंने इस पर चढ़कर जनसभा को संबोधित किया था।

 

सुषमा उसके बाद 2005 में लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा प्रत्याशी शांता कुमार के पक्ष में वोट मांगने शाहपुर के हारचक्कियां भी आई थी। उन्होंने यहां जनसभा को संबोधित करते हुए सरवीण की तारीफ कर शांता कुमार के लिए वोट देने की अपील की थी। सरवीण चौधरी के साथ भी सुषमा के गहरे संबंध थे। सरवीण चौधरी की जीत पर वे बधाई देना नहीं भूलती थी। सरवीण नम आंखों से सुषमा के साथ बिताए हुए पलों को याद करते हुए कहती हैं कि वे बहुत ही मिलनसार और दमदार नेता थीं। उनके साथ उन्हें कई पल बिताने का मौका मिला। वे जब भी मिलती थीं मुझे नाम से पुकारती थी तथा हमेशा आगे बढ़ने की प्रेरणा देती थी। सरवीण का कहना है कि उनका अचानक चले जाना उनके लिए व्यक्तिगत बहुत बड़ी क्षति है। उनकी कमी को कभी भी पूरा नहीं किया जा सकता।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप