नूरपुर/जवाली, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश के 580 लोगों को लेकर स्पेशल ट्रेन सुबह साढ़े पांच बजे के करीब पठानकोट पहुंची। ट्रेन रात डेढ़ बजे के करीब पहुंचनी थी। लेकिन चार घंटे देरी से स्टेशन पर पहुंची। ट्रेन से जिला कांगड़ा के सबसे अधिक 245 यात्री पहुंचे हैं। डॉक्टर अनुराधा शर्मा ने यात्रियों की थर्मल स्कैनिंग की। नूरपुर उपमंडल का प्रशासन रातभर पठानकोट में मौजूद रहा।

नूरपुर के एसडीएम डॉ. सुरेंद्र ठाकुर, तहसीलदार व अन्य अधिकारियों ने यात्रियों के लिए खाने पीने की व्यवस्था की। पठानकोट रेलवे स्टेशन से यात्रियों को हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में जिला में भेजा गया।

पठानकोट रेलवे स्टेशन पर पहुंचे लोग रेल में सफाई व्यवस्था से काफी नाराज दिखे। यात्रियों का कहना है ट्रेन में गंदगी थी व शारीरिक दूरी का भी ध्यान नहीं रखा गया। एक सीट पर चार-चार लोग बैठाए गए थे। गर्मी से बेेहाल थे व पानी भी गर्म था।

यह भी पढ़ें: ठाणे से पठानकोट आ रही विशेष ट्रेन में सवार देहरा के व्यक्ति की मौत, कोरोना जांच होगी Kangra News

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस