धर्मशाला, जेएनएन। जिला कांगड़ा के 10 हाई स्कूलों ने वार्षिक परीक्षाओं को लेकर उपनिदेशक उच्च कांगड़ा की ओर से मांगी सीसीटीवी कैमरों की स्टेटस रिपोर्ट नहीं भेजी है। इस पर अब उपनिदेशक कार्यालय ने संबंधित स्कूलों को अंतिम अवसर प्रदान किया है। अगर जल्द रिपोर्ट न दी तो विभागीय कार्रवाई की जाएगी। जल्द ऐसे स्कूलों को नोटिस जारी करने की तैयारी की है। रिपोर्ट में प्रशासन को स्कूलों में कितने सीसीटीवी कैमरे हैं और कितने कार्य कर रहे हैं यह बताना था, लेकिन कई स्कूल रिपोर्ट नहीं दे पाए तो 43 स्कूलों को डिफाल्टर घोषित कर दिया गया था। हालांकि उसके बाद अधिकांश स्कूलों ने रिपोर्ट भेज दी है, लेकिन 10 स्कूलों ने दिलचस्पी नहीं दिखाई है।

जिला कांगड़ा के 331 सीनियर सेकेंडरी व 57 हाई स्कूलों में परीक्षा केंद्र प्रस्तावित हैं। लेकिन रिपोर्ट देने में 10 स्कूल फिसड्डी साबित हुए हैं। हालांकि कई स्कूलों में सीसीटीवी कैमरे खराब होने की भी रिपोर्ट मिली है, जिसमें स्कूलों ने जवाब दिया है कि वह वार्षिक परीक्षाएं शुरू होने से पहले कैमरों को दुरुस्त कर देंगे। उधर, उच्चतर शिक्षा उपनिदेशक गुरदेव ङ्क्षसह ने बताया कि 10 स्कूलों की रिपोर्ट नहीं आई है और उन्हें अंतिम अवसर दे दिया गया है, यदि जल्द रिपोर्ट नहीं भेजी तो कार्रवाई की जाएगी।

वार्षिक समारोह छोड़ पढ़ाई पर दें ध्यान

उच्चतर शिक्षा उपनिदेशक गुरदेव सिंह ने निर्देश जारी किया है कि स्कूल संचालक वार्षिक समारोहों में समय बर्बाद न करें बल्कि विद्यार्थियों की पढ़ाई पर ध्यान दें। मौजूदा समय में वार्षिक परीक्षाओं के संचालन में महज डेढ़ माह शेष रह गया है, ऐसे में वार्षिक समारोहों के आयोजन का कोई औचित्य नहीं है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस