धर्मशाला/शिमला, जेएनएन। प्रदेश सचिवालय शिमला में सेनेटाइजर उपलब्ध नहीं होने के कारण अब कर्मचारी रजिस्टर पर हाजिरी लगाएंगे। शिक्षा बोर्ड धर्मशाला के कर्मचारियों को भी यही आदेश जारी कर दिया गया है। कोराना वायरस से बचाव के लिए एहतियात के तौर पर यह आदेश जारी हुआ है। सचिवालय प्रशासन की ओर से कर्मचारियों को हाजिरी लगाने में बायोमीट्रिक मशीनों से छूट देने का फैसला लिया गया है। 31 मार्च तक कर्मचारियों को बायोमिट्रिक मशीन में हाजिरी लगाने की जरूरत नहीं होगी। इसी प्रकार के निर्देश स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी जिलों को दिए गए हैं।

अस्पताल कर्मचारियों को भी बायोमीट्रिक हाजिरी से छूट दी गई है। इसके अतिरिक्त लोगों को सलाह दी गई है कि वे दूसरों से हाथ मिलाने से परहेज करें। भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों से दूरी बनाने का प्रयास करें। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान की ओर से कहा गया है कि लोग सुरक्षा की दृष्टि से भीड़ वाले क्षेत्रों में लोगों से अनावश्यक संपर्क से दूर रहें। सचिवालय सेवाएं कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष संजीव शर्मा ने कहा कि कर्मचारियों को संक्रमण से दूर रखने के लिए प्रशासन से मामला उठाया गया था।

सचिवालय प्रशासन ने हैंड सेनेटाइजर इस्तेमाल करने के बाद बायोमिट्रिक मशीन से हाजिरी लगाने के निर्देश दिए थे। शहर में दवा विक्रेताओं के पास सेनेटाइजर नहीं मिलने के कारण शनिवार को सचिवालय प्रशासन ने कर्मचारियों के लिए बायोमीट्रिक हाजिरी में छूट देने का फैसला लिया। पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की ओर से कहा गया था कि सुरक्षा की दृष्टि से सरकारी कार्यालयों में सेनेटाइजर का इस्तेमाल किया जाए।

रजिस्टर पर हाजिरी लगाने की इजाजत दिए जाने से अब सेनेटाइजर की आवश्यकता नहीं है। अब प्रदेश के सभी जिलों में कर्मचारियों की हाजिरी रजिस्टर पर लगेगी। वहीं, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के 50 कर्मचारी भी बायोमीट्रिक मशीन से हाजिरी नहीं लगाएंगे। इस संबंध में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशक ने आदेश जारी कर दिए हैं।

सेनेटाइजर व मास्क खरीदने की सभी को नहीं जरूरत

स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वायरस के खिलाफ एडवाइजरी जारी की है कि सभी लोगों को मास्क और सेनेटाइजर खरीदने की जरूरत नहीं है। अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) आरडी धीमान ने कहा कि लोगों में जिस तरह से मास्क और सेनेटाइजर खरीदने की होड़ लगी है, वह ठीक नहीं है। लोग अपनी स्वाच्छता का ध्यान रखें और साबुन से अच्छी तरह हाथ धोएं। छींकने व खांसने के दौरान कपड़े का इस्तेमाल करें। कोराना से घबराने की जरूरत नहीं है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस