शिमला, राज्य ब्यूरो। Himachal Covid Restrictions, हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के चलते सरकार पाबंदियां लगा सकती है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का कहना है प्रदेश में पिछले कुछ दिनों के दौरान कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने शुरू हुए हैं, जो चिंता का विषय है। विधानसभा परिसर में हिमाचल निर्माता डाक्‍टर वाईएस परमार की 115वीं जयंती के अवसर पर आयोजित समारोह के बाद मीडिया से बातचीत की। उन्होंने कहा बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने राज्य में प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को सलाह दी है कि वह आरटीपीसीआर टेस्ट करवाकर आए या फिर वैक्सीन डोज लेकर। उन्होंने कहा सरकार ने 10 अगस्त को प्रदेश मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई है। इस बैठक में कोरोना वायरस के मामलों को देखते हुए सरकार समीक्षा करेगी। यदि जरूरी हुआ तो पाबंदियां बढ़ाई जा सकती हैं।

मानसून में भी इस बार हिमाचल में पर्यटन सीजन जारी है। वीकेंड पर हजारों पर्यटक कसोली, शिमला, मनाली, डलहौजी व धर्मशाला में पहुंच रहे हैं। अभी केवल सरकार ने बाहर से आने वाले लोगों के लिए एडवायजरी जारी की है। इस समय प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों की संख्या बढ़कर 1400 से ज्‍यादा हो चुकी है, जो कि एक सप्ताह पहले करीब 850 थी। वहीं, शिक्षण संस्‍थानों को भी बंद किया जा सकता है। सीएम ने स्‍पष्‍ट संकेत दिए हैं कि यदि कोरोना के मामले बढ़ते हैं तो स्‍कूलों व कॉलेज को बंद किया जाएगा। प्रदेश सरकार ने दो अगस्‍त से शिक्षण संस्‍थान खोल दिए हैं। कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने के कारण अब अभिभावकों की भी चिंता बढ़ गई है।

डॉक्टर परमार जयंती के अवसर पर उन्होंने कहा कि हिमाचल निर्माता डॉक्टर परमार के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने राज्य की जो नींव रखी थी, प्रदेश उस पर आगे बढ़ रहा है। राज्य ने हर क्षेत्र में विकास करने का प्रयास किया है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma