करुणेश शर्मा ज्वालामुखी

ज्वालामुखी व आसपास के क्षेत्र में इस बार लोगों ने निश्चय किया है कि दीपावली पर वे चीन के सामान को नहीं लगाएंगे और भारत में बने सामान को ही खरीदेंगे। दीपावली के लिए बाजारों में कुछ उत्पाद ऐसे हैं जो चीन निर्मित हैं। हालांकि इनकी मात्रा ज्यादा नहीं है। चीनी सामान के मुकाबले में बाजार में कप प्लेट सहित अन्य उत्पाद स्वदेशी भी उपलब्ध हैं। इन्हें खरीदने में लोग दिलचस्पी दिखा रहे हैं।

ज्वालामुखी बाजार में इस बार दुकानदारों ने चीन निर्मित सामान से हाथ पीछे रखे हैं और स्वदेशी सामान बेचने के लिए दुकान में लाए हैं। बाजार में पहुंचे लोगों का कहना है कि चीन के सामान का बहिष्कार किया जाएगा और स्वदेशी उत्पाद को बढ़ावा दिया जाएगा। स्थानीय लोगों ने इस बार प्रण किया है कि विदेशी सामान को हाथ नहीं लगाएंगे। हजारों रुपये का विदेशी सामान दीपावली व अन्य त्योहार में खरीदते हैं। इसका बहिष्कार किया जाना चाहिए। देश में निर्मित कई उत्पाद बाजार में उपलब्ध हैं।

-बाबू राम शर्मा चीन निर्मित सामान का बहिष्कार करेंगे और स्वदेशी उत्पाद को ही खरीदेंगे। किसी भी त्योहार व अन्य समारोह में चीन में बने सामान का बहिष्कार किया जाना चाहिए।

-संदीप कुमार इस बार चीन निर्मित पटाखों का बहिष्कार करेंगे। देश में बने पटाखे ही खरीदेंगे। इससे स्थानीय उत्पादों को भी बढ़ावा मिलेगा। सबको स्वदेशी सामान ही खरीदना चाहिए।

-राहुल मां लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करेंगे और पटाखे नहीं फोड़ेंगे। विदेशी सामान का बहिष्कार करेंगे और मिट्टी के बने दीपक जलाएंगे। बाजार में कई स्वदेशी उत्पाद मौजूद हैं।

-रामस्वरूप शर्मा

Edited By: Jagran