करसोग, सहयोगी। Mandi By Election, मंडी संसदीय क्षेत्र के उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा ङ्क्षसह ने कहा कि भाजपा की कथनी और करनी में बहुत अंतर है। भाजपा क्षेत्रवाद को बढ़ावा देते हुए लोगों को गुमराह करने का प्रयास कर रही है। कांग्रेस यह चुनाव भाजपा के कुशासन, बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी जैसे जटिल मुद्दों पर लड़ रही है।

उन्होंने कहा कि भाजपा का आइटी सेल उनके भाषणों को तोडऩे-मरोडऩे में लगा है। वह इस फिराक में रहते हैं कि कब प्रतिभा ङ्क्षसह के मुंह से कुछ ऐसे शब्द निकले जिन्हें लोगों में गलत तरीके से पेश किया जाए। मुख्यमंत्री के मजबूरी वाले बयान पर प्रतिभा ङ्क्षसह ने कहा कि, 'मेरी मजबूरी का मतलब जनता है। आज आम जनता के कार्य नहीं हो रहे उसको उठाना मेरा कर्तव्य है। इसलिए मुझे मजबूरन राजनीति में आना पड़ा।Ó वह शुक्रवार को सराज हलके के छतरी, करसोग के पांगणा व करसोग में चुनावी सभा को संबोधित कर रही थीं।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री किसी विशेष क्षेत्र का कभी नहीं होता। वह पूरे प्रदेश का होता है। लोकतंत्र में जनमत ही सर्वोपरि होता है। इसका पूरा सम्मान किया जाना चाहिए। वीरभद्र ङ्क्षसह के निधन से उन्होंने ही नहीं पूरे प्रदेश ने अपना एक ऐसा लोकप्रिय नेता खोया है जो लाखों लोगों के दिलों में बसते थे। यह उपचुनाव मोदी सरकार की तानाशाही, बढ़ती बेरोजगारी व महंगाई, हर साल दो करोड़ रोजगार देने जैसे झूठे वादों के मुद्दों पर लड़ा जा रहा है। पिछले चुनाव में भाजपा नेताओं ने प्रदेश में 62 राष्ट्रीय राजमार्गों की घोषणा कर लोगों को गुमराह किया था।

उन्‍होंने कहा कि चार साल में यहां एक राजमार्ग नहीं बना। केंद्र की जनविरोधी नीतियों से आज देश के लोग परेशान हैं। एक-एक वोट वीरभद्र ङ्क्षसह के लिए श्रद्धांजलि होगी। करसोग हलके की जनता से वीरभद्र ङ्क्षसह का अलग सा रिश्ता था। उन्होंने करसोग कई सौगातें दी थी, लेकिन भाजपा सरकार ने उन योजनाओं को अभी तक आगे बढऩे नही दिया।

Edited By: Virender Kumar