कुल्‍लू, जागरण संवाददाता। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय दशहरा उत्सव कुल्लू के शुरू होने के दौरान अटल सदन के बाहर बने वीवीआइपी मंच से देव दर्शन करेंगे। वह मंच से भगवान रघुनाथ की रथयात्रा देखेंगे। वह 23 साल बाद रथयात्रा के साक्षी बनेंगे। इससे पहले नरेंद्र मोदी ने वर्ष 1999 में दशहरा उत्सव कुल्लू में भाग लिया था। उत्सव के समापन समारोह पर उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल, बागवानी मंत्री नरेंद्र बरागटा, प्राथमिक शिक्षा मंत्री कर्ण सिंह व सांसद महेश्वर सिंह के साथ मंच पर नाटी डाली थी।

वर्ष 1999 के लोकसभा चुनाव में महेश्वर सिंह कांग्रेस नेता कौल सिंह को पराजित कर दूसरी बार सांसद बने थे। उसी साल मोदी राष्ट्रीय राजनीति में लौट गए थे। वह वर्ष 1996 से 1999 तक हिमाचल भाजपा के प्रभारी रहे हैं। बिलासपुर से प्रधानमंत्री पांच अक्टूबर को दोपहर बाद वायुसेना के हेलीकाप्टर से भुंतर हवाई अड्डे पर पहुंचेंगे। वहां से सड़क से वह कुल्लू के रथ मैदान जाएंगे। भुंतर हवाई अड्डे से कुल्लू की दूरी करीब 10 किलोमीटर है। प्रधानमंत्री का काफिला भुंतर फोरलेन बाईपास से होकर अखाड़ा बाजार निकलेगा और सीधा मंच के पास पहुंचेगा। हालांकि अभी इस पर अंतिम फैसला नहीं हुआ है। सुरक्षा की दृष्टि से यह मार्ग सुरक्षित है। एसपीजी के निरीक्षण के बाद काफिले का रूट तय होगा। कुल्लू के उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने तैयारियों के संबंध में बुधवार को अधिकारियों व जिला कारदार संघ के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। जिला कारदार संघ के पदाधिकारियों ने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम के लिए हामी भर दी है।

बैठक के बाद उपायुक्त ने ऐतिहासिक रथयात्रा का सुचारू संचालन सुनिश्चित बनाने के लिए अधिकारियों की टीम के साथ रथ मैदान का जायजा लिया। उन्होंने मैदान में किए जाने वाले सभी आवश्यक प्रबंधों को जांचा। उन्होंने अधिकारियों को व्यवस्था बनाने के आदेश दिए। रथ मैदान में तीन बड़ी एलईडी स्क्रीन लगाई जाएंगी ताकि हर श्रद्धालु को रथयात्रा सुविधाजनक दिखाई दे सके। रथयात्रा दशहरा उत्सव की सर्वाधिक आकर्षण और श्रद्धा का केंद्र रहती है। इसमें सैकड़ों देवी-देवताओं का महामिलन होता है। देवी-देवता हजारों देवलुओं के साथ भगवान रघुनाथ की यात्रा में शामिल होते हैं।

रथ खींचने के लिए लोगों में होड़ लगती है। बैठक में पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. सुशील चंद्र शर्मा, कमांडेंट होमगार्ड निश्चिंत नेगी, जलशक्ति विभाग के अधीक्षण अभियंता केके कुल्लवी, लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता केके शर्मा, सहायक आयुक्त शशिपाल नेगी, जिला भाषा अधिकारी सुनीला ठाकुर, जिला पर्यटन विकास अधिकारी सुनयना शर्मा व नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी बीआर नेगी उपस्थित रहे।

2000 जवान संभालेंगे यातायात व सुरक्षा व्यवस्था दशहरा उत्सव व प्रधानमंत्री

उपायुक्‍त कुल्‍लू नू कहा कि आशुतोष गर्ग पीएम के कार्यक्रम में करीब 2000 जवान व 50 अधिकारी सुरक्षा व यातायात व्यवस्था संभालेंगे। उत्सव के दौरान 1400 जवान तैनात रहते हैं। पीएम के दौरे को देखते हुए 600 अतिरिक्त जवान लगाए जाएंगे।

पीएम मोदी के लिए रथयात्रा देखने की व्यवस्था अटल सदन के बाहर बने वीवीआइपी मंच पर की जा रही है। यहीं से वह देवी-देवताओं के दर्शन करेंगेे।

Edited By: Richa Rana

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट