पालमपुर, जेएनएन। चौधरी सरवण कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय पालमपुर में पीएचडी की छात्रा ने गाइड पर प्रताडऩा का आरोप लगाया है। कुलपति को लिखे शिकायत पत्र में छात्रा ने गाइड की शिकायत की है और साथ ही विवि प्रशासन से न्याय की गुहार भी लगाई है। शिकायत पत्र में छात्रा ने कहा है कि वह करियर बनाने के लिए आई थी पर इसे तबाह किया जा रहा है। छात्रा नेे सेल्फ फाइनेंस के तहत पीएचडी की डिग्री हासिल करने के लिए प्रवेश लिया था।

छात्रा के अनुसार, गाइड ने मानसिक तौर पर इतना प्रताडि़त किया कि अब वह परेशान हो गई है। आरोप लगाया कि जो कुछ गाइड ने कहा वैसे ही किया है लेकिन उसे ओरल वाइवा में फेल कर दिया है। बताया जा रहा है कि छात्रा ने अक्टूबर में गाइड की कुलपति से शिकायत की थी और कुलपति ने मामले को डीन पीजी के पास भेजा है। डीन पीजी ने भी मामले में विभाग से रिपोर्ट मंगवाई है। 13 नवंबर को छात्रा का ओरल वाइवा था तो कुलपति डॉक्टर अशोक सरियाल भी वहां पर पहुंच गए।

छात्रा वाइवा में संतोषजनक जवाब नहीं दे पाई। इसके बाद उसने 15 नवंबर को कुलपति को नया पत्र लिखते हुए गाइड के खिलाफ कई आरोप लगाए। इन आरोपों में कितनी सच्चाई है, इसका पता तो जांच के बाद ही चलेगा। दूसरी ओर गाइड ने कहा कि वह जल्द पक्ष रखेंगे।

छात्रा की शिकायत पर कार्रवाई की जाएगी। छात्रा पहले भी मिली थी और उसकी मदद की थी। उस दौरान उसने ये आरोप नहीं लगाए थे। अब जो पत्र उसने दिया है, उस पर कमेटी गठित कर मामले की जांच होगी।  -डॉक्टर अशोक कुमार सरियाल, कुलपति, कृषि विवि पालमपुर।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप