कांगड़ा, जेएनएन। कांगड़ा एयरपोर्ट विस्तार के विरोध में इच्छी गांव के लोगों ने सोमवार को रोष रैली निकाली। पंचायत प्रधान विजय कुमार के नेतृत्व में इच्छी बाजार से पुराना मटौर तक रोष रैली निकाली गई। इस दौरान ग्रामीणों ने तर्क दिया कि एयरपोर्ट का विस्तार मांझी खड्ड तक ही किया जाए। इस दौरान विधायक पवन काजल ने भी मांग की कि मांझी खड्ड तक ही एयरपोर्ट का विस्तार किया जाए तथा लोगों को बेघर होने से बचाया जाए।

काजल ने कहा है कि अगर ग्रामीणों की मांग को नजरअंदाज किया तो वह भी ग्रामीणों  की संघर्ष यात्रा में कंधे से कंधा मिलाकर साथ देंगे। इच्छी के प्रधान विजय कुमार ने बताया कि संघर्ष की आगामी रूपरेखा तैयार करने के लिए आसपास के गांवों के ग्रामीणों व पंचायत प्रतिनिधियों के साथ सात फरवरी को पंचायत घर इच्छी में बैठक रखी है।

चेतावनी दी कि ग्रामीण किसी भी सूरत में एयरपोर्ट का विस्तार मांझी खड्ड से आगे बर्दाश्त नहीं करेंगे। उधर, विधायक पवन काजल ने कहा कि विधानसभा के बजट सत्र में वह हवाई अड्डे के विस्तार का मामला उठाएंगे। उन्होंने कहा कि मांझी खड्ड से आगे एयरपोर्ट का विस्तार किया तो वह भी ग्रामीणों के समर्थन में आंदोलन से गुरेज नहीं करेंगे।

पौंग विस्थापितों को आरक्षित  जमीन की जाए आवंटित

उपायुक्त राहत एवं पुनर्वास राजा का तालाब पौंग डैम विस्थापित विकास एजेंसी फंड कमेटी (पोडा) को विश्वास में लिए बिना विस्थापितों को फेस-दो में मुरब्बे आवंटित कर रही है जोकि किसी सूरत में कमेटी सहन नहीं करेगी। यह आरोप पोडा के सदस्य राजिंद्र कौंडल व तरसेम चौधरी ने लगाए हैं। राजिंद्र कौंडल व तरसेम चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने निर्देश दिए हैं कि गठित कमेटी को विश्वास में लेकर मुरब्बे दिए जाएं, लेकिन इन आदेश को दरकिनार करके डीसी आरएंडआर खुद ही राजस्थान में जाकर फेस-दो पर जमीन विस्थापितों को अलॉट कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि फेस-दो पर दिए जा रहे मुरब्बों में कोई भी मूलभूत सुविधा दिखाई नहीं देती है। उक्त जमीन में न तो पानी की कोई सुविधा है और न ही बिजली, कॉलेज व स्कूल दिखाई देता है। यह जमीन बॉर्डर के साथ लगती है। उन्होंने कहा कि विस्थापितों ने डैम बनने के समय बेशकीमती उपजाऊ जमीनों को दिया था, लेकिन आज बदले में उनको बंजर जमीन क्यों दी जा रही है। उन्होंने कहा कि आखिरकार विस्थापितों का क्या कसूर है?

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस