संवाद सहयोगी, योल : धर्मशाला विकास खंड के प्रधान एवं उपप्रधान संगठन ने पंचायत सचिव के खिलाफ फिर आवाज बुलंद कर दी है। संगठन की आपात बैठक वीरवार को अध्यक्ष सुरेश कुमार की अध्यक्षता में हुई। इस दौरान कहा गया कि धर्मशाला खंड में पंचायत सचिव की वजह से विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं। खंड के अंतर्गत ढगवार पंचायत में सेवाएं ठीक ढंग से न देने वाले सचिव के खिलाफ प्रधान व उपप्रधान संगठन ने विरोध प्रदर्शन किया था। मांग की गई थी कि उक्त सचिव का तबादला अन्य विकास खंड में किया जाए। बावजूद इसके सरकार ने उसे ढगवार पंचायत से हटाकर डीआरडीए धर्मशाला में लगा दिया।

आरोप है कि उक्त सचिव राजनीति प्रभाव के चलते मनमानी से काम करता है। संगठन का कहना है सरकार उक्त पंचायत सचिव को धर्मशाला ब्लाक की किसी भी पंचायत में फिर से नियुक्ति करती है तो इसके विरोध में प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। फिर भी सरकार कोई कड़ा संज्ञान नहीं लेती है तो धर्मशाला ब्लाक की सभी पंचायतों में विकास कार्य रोक दिए जाएंगे। साथ ही प्रधान व उपप्रधान संगठन सड़क पर उतरने में भी कोई गुरेज नहीं करेगा। इस मौके पर बल्ला पंचायत प्रधान रीता देवी, उपप्रधान सुनील दत्त धीमान, टंग प्रधान संतोष कुमार, सुरेश कुमार, मलकीयत, रंजीत, मंजीत, सुषमा देवी, रीटा देवी, इंदु देवी रक्कड़, इंदु देवी, सुषमा देवी, बीना देवी, मंजू बाला, विजय सिंह, संजीव कुमार धीमान, पद्दर पंचायत प्रधान इंदु रानी, उपप्रधान बॉबी गोस्वामी व अन्य मौजूद रहे।

Edited By: Jagran