राज्य ब्यूरो, शिमला। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उद्योगों और अधिकारियों से कहा है कि हिमाचल प्रदेश के विकास में अहम भूमिका निभाने वाले प्रवासी कामगारों को राज्‍य में हर सुविधा दी जाएगी ताकि वे यहीं रहें और अपने प्रदेश न जाएं।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच विवाह समाराेहों में केवल 50 ही लोग शामिल हो पाएंगे। विवाह भवन के अंदर हो या बाहर, शामिल होने वालों की संख्‍या 50 से अधिक नहीं होगी। इसी प्रकार अन्‍य सामाजिक समाराेहों या अंतिम संस्‍कार में भी इतनी ही संख्‍या रहेगी। सरकारी कार्यालयों में रविवार के साथ शनिवार को भी काम नहीं होगा। अन्‍य दिनों में भी 50 फीसद लोग ही आएंगे।

शिक्षण संस्‍थान पहली मई तक बंद रहेंगे। इसके अलावा सरकारी व निजी बसों में अब 50 फ़ीसदी ऑक्युपेंसी के साथ सवारियों को बिठाया जाएगा। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि नवरात्र तक मंदिरों में मौजूदा व्‍यवस्‍था ही चलेगी लेकिन 23अप्रैल के बाद तय किया जाएगा कि आगे क्‍या फैसला लेना है। उन्‍होंने कहा कि पूजा हर हाल में जारी रहेगी। गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में कोरोना के मामलों में बेतहाशा वृद्धि देखने में आ रही है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021