धर्मशाला, राजेंद्र डोगरा। दशहरे के बाद बेशक मैक्लोडगंज के होटलों में आक्युपेंसी कम हो गई हो, लेकिन होटलियरों के लिए यह राहत की बात है कि अब आफलाइन भी रोजाना 15 से 20 फीसद कमरों की बुकिंग हो रही है। दशहरा उत्सव होटलियरों के लिए राहत लेकर आया है और अब दीपावली से होटलों संचालकों समेत पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों को अच्छा कारोबार होने की उम्मीद है, क्योंकि इसके लिए अब दक्षिण भारत के महाराष्ट्र व उड़ीसा समेत कई राज्यों के पर्यटक आनलाइन बुकिंग करवा रहे हैं।

दशहरे उत्सव पर केवल उत्तरी भारत के पंजाब, हरियाणा, दिल्ली व जम्मू-कश्मीर के पर्यटकों की बुकिंग थी। वहीं अब रोजाना 15 से 20 फीसद कमरों की बुकिंग मौके पर हो रही है और इनमें भी उत्तरी भारत के जम्मू-कश्मीर, दिल्ली, पंजाब व हरियाणा के पर्यटक ही पहुंच रहे हैं, जो मैक्लोडगंज में घूमने के अलावा धौलाधार को भी नजदीक से निहार रहे हैं।

पहली नवंबर से है इन राज्यों के पर्यटकों की बुकिंग

पहली नवंबर से मैक्लोडगंज के होटलों में दिल्ली के अलावा दक्षिण भारत के राज्यों महाराष्ट्र सहित उड़ीसा व अन्य राज्यों के पर्यटकों ने बुकिंग करवानी शुरू कर दी है। कुल मिलाकर 15 दिन पहले ही नवंबर माह में शुरू होने वाली त्योहारी सीजन के लिए होटलों की बुकिंग शुरू हो चुकी है।

यह बोले होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन धर्मशाला के प्रवक्ता

होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के प्रवक्ता विशाल नैहरिया ने कहा कि ये होटलियरों के लिए राहत की बात है कि अब रोजाना 15 से 20 फीसद तक होटलों में कमरों की ऑक्युपेंसी है। हालांकि होटलों में कमरे मौके पर ही बुक हो रहे हैं। लेकिन इससे कारोबार पुन: पटरी पर लौटा है।

यह बोले होटल संचालक

होटल संचालक विवेक महाजन ने कहा कि नवंबर माह के लिए बुकिंग आ रही हैं और ये शुभ संकेत है कि अब उत्तरी भारत के अलावा अन्य राज्यों के पर्यटक भी बुकिंग करवा रहे हैं। इससे होटल कारोबार के साथ-साथ किसी न किसी रूप से पर्यटन उद्योग से जुड़े लोगों को लाभ होगा।

यह बोले एसोसिएशन के अध्यक्ष

होटल एंड रेस्टोरेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष अश्वनी बांबा ने कहा कि पहली नवंबर से होटलों की बुकिंग है और दक्षिण भारत के राज्यों के पर्यटकों ने भी बुकिंग करवाई है। हालांकि दशहरे के बाद ऑक्युपेंसी गिरी है, लेकिन नवंबर माह कारोबार के लिए अच्छा रहेगा।

Edited By: Richa Rana