पांगी (चंबा), संवाद सहयोगी। चंबा जिले की पुरथी पंचायत में चुनाव अधिकारियों की अनदेखी के कारण वार्ड सदस्य का चुनाव रद करना पड़ा है। वार्ड-दो थांदल में आरक्षण रोस्टर बदल जाने के कारण यह फैसला लेना पड़ा। साथ ही गलती किस स्तर पर हुई, इसकी छानबीन की जा रही है।

वार्ड-दो में वार्ड सदस्य की सीट अनुसूचित जनजाति (एसटी) की महिला के लिए आरक्षित थी। नामांकन के दिन जारी किए आरक्षण रोस्टर के तहत पंचायत में चिपकाए नोटिस में किसी तरह का आरक्षण नहीं लिखा था। इसके चलते पुरुष उम्मीदवारों ने भी सहायक रिटर्निंग अधिकारी के पास वार्ड सदस्य के लिए नामांकन पत्र दाखिल कर दिए।

नामांकन पत्रों की जांच करने के बाद प्रत्याशियों को चुनावचिह्न तक दे दिए गए। इस दौरान किसी व्यक्ति ने राज्य चुनाव आयुक्त को आरक्षण रोस्टर की अनदेखी किए जाने की शिकायत कर दी। इसके बाद पांगी प्रशासन को गलती का पता चला।

16 सितंबर को जब वार्ड पंचों के नाम आनलाइन जारी किए जा रहे थे, उस समय भी कंप्यूटर ने गलती पकड़ ली थी। कंप्यूटर उस वार्ड से भरे नाम को नहीं उठा रहा था लेकिन उस पर गौर नहीं किया गया।

वार्ड सदस्य के चुनाव रद करने की पुष्टि निर्वाचन अधिकारी एवं आवासीय आयुक्त पांगी बलवान चंद ने की है। उन्होंने बताया कि पुरथी पंचायत के थांदल वार्ड में जो अनियमितताएं पाई गई हैं, उसकी छानबीन करके चुनाव आयुक्त को रिपोर्ट भेजी जाएगी। प्रधान, उपप्रधान और पंचायत समिति का मतदान पूर्व निर्धारित तिथि को ही होगा।

उल्लेखनीय है कि प्रदेश के अन्य हिस्सों में पंचायत चुनाव संपन्न हो चुके हैं। मौसम के कारण जनजातीय क्षेत्रों में जनवरी में अन्य क्षेत्रों के साथ चुनाव नहीं करवाए जा सके थे। अब मौसम में सुधार के बाद चुनाव कार्यक्रम जारी किया गया है। लाहुल-स्पीति, पांगी के साथ उन क्षेत्रों में भी चुनाव करवाए जा रहे हैं, जहां सीटें खाली हुई हैं।

Edited By: Vijay Bhushan