संवाद सहयोगी, देहरा : उपंडल देहरा के नजदीक ब्यास नदी के किनारे बसे बड़ा गांव की बड़ी समस्या इस साल के अंत तक दूर होने की उम्मीद है। यहां नारद खड्ड पर इस साल के अंत तक पुल बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बनने से सैकड़ों की आबादी का उपमंडल मुख्यालय देहरा के साथ सालभर संपर्क बना रहेगा। सुनहेत से जंबल-बस्सी मार्ग पर स्थित बड़ा गांव व देहरा के बीच दूरी सिर्फ बीच में बहती ब्यास नदी की है, लेकिन मार्ग से जाने पर यह करीब पांच किलो मीटर पड़ जाती है। बड़ा और सुनहेत के बीच स्थित नारद खड्ड बरसात में उफान पर होती है। इस कारण यह इलाका पूरी तरह कट जाता है। लोग कई वर्षो से यहां पुल का निर्माण करने की मांग करते रहे हैं। पुल के निर्माण के लिए तीन करोड़ 40 लाख रुपये स्वीकृत हुए हैं। एक करोड़ 30 लाख रुपये की पहली किस्त जारी हो चुकी है। पुल का निर्माण पिछले साल बरसात में शुरू हुआ था। कुछ समय काम बंद रहने के बाद अब फिर जारी है। लोगों को उम्मीद है कि काम जल्द पूरा हो जाएगा।

बड़ा पंचायत के प्रधान विरेंद्र कुमार ने कहा कि पुल न होने से बरसात के मौसम में परेशानी बढ़ जाती है। एक तरफ नारद खड्ड और दूसरी तरफ ढलियारा खड्ड में पानी बढ़ने से लोगों को यहां से बाहर निकलना मुश्किल हो जाता है, क्योंकि देहरा से संपर्क का जरिया यही सड़क है। स्थानीय निवासी शुभलता ने कहा कि इस खड्ड में साल भर पानी बहता है। बरसात में इसे पार करना मुश्किल हो जाता है। कई बार ऐसा हो चुका है कि बरसात में कोई बीमार समय पर अस्पताल नहीं पहुंच पाया। पुल बनने से लोगों की समस्या दूर हो जाएगी। संजीव कुमार ने कहा कि उसे काम के सिलसिले में ह दिन देहरा जाना पड़ता है। सामान्य दिनों में तो सब ठीक रहता है, लेकिन बरसात में उनका देहरा से संपर्क ही कट जाता है। तीन पिलरों पर बन रहे पुल का निर्माण कार्य तेजी से जारी है। उम्मीद है कि इस साल के अंत तक काम पूरा हो जाएगा।

-दिनेश कुमार धीमान, अधिशाषी अभियंता, लोक निर्माण विभाग देहरा लोग काफी अर्से से यहां पुल का निर्माण करने की मांग कर रहे थे। मैंने विधायक प्राथमिकता में लेकर एससीएसपी कंपोनेंट के तहत इसे स्वीकृत करवाया है। इसके निर्माण से बड़ा ही नहीं, बल्कि जंबल-बस्सी तक के हजारों लोगों को लाभ मिलेगा।

-होशियार सिंह, विधायक

Edited By: Jagran