कांगड़ा, जेएनएन। नगर परिषद कांगड़ा के प्रधान अशोक शर्मा ने मंगलवार को अध्यक्ष पद से अपना इस्तीफा दे दिया। उन्‍होंने एसडीएम जतिन लाल को इस्‍तीफा सौंप दिया। इस्तीफा देने के बाद पत्रकारों को कार्यालय में संबोधित करते हुए उन्होने कांगड़ा की जनता का सहृदय धन्यवाद किया तथा इस्तीफे को निजी एवं परिवारिक समझौता बताया। अशोक शर्मा ने 4 सितंबर 2018 को 11वें अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला था। उनका कार्यकाल 16 महीने का रहा।

अशोक शर्मा ने 16 माह के कार्यकाल में कांगड़ा शहर के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्‍होंने कहा कि अध्‍यक्ष रहते हुए शहर के विभिन्न वार्डों में 4 ओपन-एयर जिम की स्थापना की। नगर परिषद कार्यालय के पास आधुनिक शौचालय का निर्माण, पुराना कांगड़ा में पार्क निर्माण, नेहरू चौक में वीडियो वॉल, डोर टू डोर कूड़ा एकत्रित करने का काम, शहर की गलियों में इंटर लॉक टाइल्‍स लगाना उनके कार्यकाल की मुख्य उपलब्धियां रहीं। उन्‍हीं के कार्यकाल के दौरान सरकार द्वारा चलाये गये जल शक्ति अभियान के तहत नगर परिषद कांगड़ा हिमाचल प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहा।

अगले अध्यक्ष पद के लिये कोमल शर्मा को समर्थन देने की घोषणा करते हुए कहा कांगड़ा की जनता ने मुझे अपार स्नेह दिया है उनका मैं हमेशा ऋणी रहूंगा। कोमल शर्मा समाजसेवी डॉक्‍टर राजेश शर्मा की पत्‍नी हैं। डॉक्‍टर राजेश शर्मा ने आजाद प्रत्‍याशी के तौर पर विधानसभा का चुनाव भी लड़ा था।

अब तक रहे नगर परिषद के अध्यक्ष

  • 1.चंद्रशेखर : 1 फरवरी 1975
  • 2.सुधिंद्र गुप्ता : 1978 से 1981 तक
  • 3.केवल कृष्ण मल्होत्रा 1981 से1982 तक
  • 4.पंडित बाल कृष्ण 1986 से 1990 तक
  • 5.पंडित बाल कृष्ण 1995 से 2000 तक
  • 6.उर्मिला शर्मा 2000 से 2006 तक
  • 7.सुमन वर्मा 2006 से 2007 तक
  • 8.उर्मिला शर्मा 2007 से 2011 तक
  • 9.सुमन वर्मा 2011 से 2016 तक
  • 10.सुमन वर्मा 2016 से 2018 तक
  • 11. अशोक शर्मा 2018 से फरवरी 2020 तक

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस