ज्वालामुखी, जेएनएन। राज्य योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला ने ज्वालामुखी में हुई बैठक में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की क्लास लगाई तथा दो साल में हुए विकास कार्यों की जानकारी हासिल की। वहीं भविष्य में किए जाने वाले कार्यों के लिए निर्देश दिए। धवाला ने कहा कि विभाग के कई ठेकेदारों ने करोड़ों रुपये के कार्य तो ले लिए हैं परंतु वे निर्धारित समयावधि में उन को नहीं कर रहे हैं। इससे विकास कार्य धरातल पर नजर नहीं आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि विकास कार्यों के लिए धन की कोई कमी नहीं है परंतु विकास कार्य समय के अनुसार होने चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाना चाहिए। साथ ही जो ठेकेदार समय पर काम नहीं कर रहे हैं तो उनको ब्लैक लिस्ट किया जाए।

धवाला ने तहसीलदार एवं मंदिर अधिकारी बीडी शर्मा और कनिष्ठ अभियंता जितेंद्र शर्मा को भी तलब किया और मंदिर में चल रहे विकास कार्यों के बारे में जानकारी हासिल की। उन्होंने नाराजगी व्यक्त की है कि दो साल में मंदिर न्यास ने कोई विकास कार्य नहीं किए हैं। उन्होंने अधिकारियों को चेतावनी देते हुए कहा कि एक माह के अंदर यदि उनको काम नजर न आये तो वे सख्ती से पेश आएंगे।

उन्होंने नगर परिषद ज्वालामुखी की कार्यकारी अधिकारी कंचन बाला से भी शहर के कार्यों की जानकारी हासिल की और निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नगर परिषद के पास करोड़ों रुपये बैंकों में है परंतु विकास कार्यों पर उसे खर्च नहीं किए जा रहा है। धवाला ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ईमानदारी से काम होना चाहिए भ्रष्टाचार को सहन न किया है न करेंगे।

इस मौके पर एसडीएम अंकुश शर्मा, डीएसपी तिलकराज, थाना प्रभारी मनोहर चौधरी, लोक निर्माण विभाग के अधिशाषी अभियंता अजय शर्मा, सहायक अभियंता सुमन कुमार, भाजपा नेता मान चंद राणा, जेपी चौधरी, चमन पुंडीर, विजय मेहता, रामस्वरूप शास्त्री, जोगिंद्र कौशल, देसराज अत्रि, रजनीश धवाला, सुधीर चौधरी व अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस