ज्वालामुखी, संवाद सहयोगी। कथोग स्थित लॉरेट इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी में बी फार्मेसी के 15वें अकादमिक सत्र का शुभारंभ शांति हवन के साथ किया गया। इसमें फार्मेसी संस्थान के प्रबंध निदेशक डा. रण सिंह, निदेशक एवं प्रधानाचार्य डा. एमएस आशावत, उप -प्रधानाचार्य डा. विनय पंडित, डीन स्टूडेंट वेलफेयर डा. सीपीएस वर्मा, डीन रिसर्च डा. धर्मेंद्र कुमार, डा. अमरदीप तथा शिव कुमार कुशवाहा ने शांति हवन के साथ छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की।

संस्थान में बी फार्मा प्रथम वर्ष के छात्रों का इंडक्शन प्रोग्राम की शुरुआत शांति हवन और वेद मंत्रों से की गई। जिसमें संस्थान के सभी छात्र एवं छात्राओं ने शांति हवन में भाग लिया और पूर्णाहति डाली। इस छात्र प्रेरणा कार्यक्रम में नए छात्रों को संस्था के नियमों से अवगत कराया जाता है, उसके बाद ही नियमित कक्षाएं शुरू होती हैं। प्रेरणा कार्यक्रम की शुरुआत में छात्रों को संस्थागत नीतियों, प्रक्रियाओं, प्रथाओं, संस्कृति और मूल्यों के बारे में सीखते हैं और उनके मेंटर समूह बनते हैं। जिससे छात्रों को शिक्षा के दौरान किसी भी तरह की दिक्कत हो तो वो अपने मेंटर से सांझा कर सकते हैं।

निदेशक एवं प्रधानाचार्य डा. एमएस आशावत इस अवसर पर छात्रों सुखद भविष्य के लिए पूरी दिनचर्या तय करने का आह्वान किया, ताकि वह निर्धारित दिनचर्या के मुताबिक पढ़ाई के लिए अलग से समय तय कर उसके अनुसार पढ़ाई को समय दे सकें। उन्होंने छात्रों से यह भी आह्वान किया कि वह पढ़ाई पूरी ईमानदारी व लग्न से करें और यदि उन्हें कोई भी अड़चन पेश आती है तो वह प्राध्यापकों से उस संबंध में जानकारी लें। इस अवसर पर संस्थान के सह प्रोफेसर प्रवीण कुमार, शम्मी जिंदल काम्या जिंदल, निशांत गौतम और सहायक प्रोफेसर देव राज शर्मा, तरुण शर्मा, रीनू राणा, उपासना ठाकुर, अर्चना, डिंपल राणा, आरती, आस्था शर्मा, प्रतिभा चौधरी, आंचल गुलेरिया, डा. शुभम शर्मा, गौरव अवस्थी, शैली शर्मा तथा स्टाफ के सभी सदस्य मौजूद रहे।

Edited By: Richa Rana