नूरपुर, जेएनएन। जिला कांगड़ा में नूरपुर के वार्ड नौ में हो रहे भूस्‍खलन ने बारिश के कारण फ‍िर डराना शुरू कर दिया है। शुक्रवार देर रात नूरपुर के वार्ड 9 में भूस्खलन प्रभावित इलाके में भारी बारिश से एक ओर डंगा गिर गया, जिससे वहां अन्य मकानों पर खतरा बढ़ गया है। जिस मकान का डंगा गिरा है वहां रहने वाले लोगों को प्रशासन पहले ही विधायक राकेश पठानिया के निर्देश पर सुरक्षित जगह शिफ्ट कर चुका है। इससे पूर्व तीन दिनों से हो रही भारी बारिश ने नूरपुर शहर के भूस्खलन से प्रभावित वार्ड नौ के बाशिंदों की की नींद उड़ा दी है।

इस वार्ड के लोग शुक्रवार को एसडीएम  डॉक्‍टर सुरेंद्र ठाकुर से मिले व उन्हें अपनी समस्याएं बताईं। लोगों ने उन्हें किसी सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट करने की मांग की थी और उसी रात इसी इलाके में एक और पक्का डंगा गिर गया। गौरतलब है कि शहर का वार्ड नौ भूस्खलन से प्रभावित है और यहां इस बरसात में भी भूस्खलन हुआ था, जिससे कई घरों में दरारें आ गई थीं।

30 नबंवर को भी यहां भूस्खलन से दो घर भूस्खलन की चपेट में आकर जमींदोज हो गए थे और लगभग 11 घर खतरे की चपेट में आ गए थे। अब एक बार फिर भारी बारिश से यहां भूस्खलन का खतरा बढ़ गया है और प्रभावित लोगों से स्थानीय प्रशासन ने उन्हें किसी सुरक्षित स्थान पर भेजने की गुहार लगाई है।

इस बारे में एसडीएम डॉक्‍टर सुरेंद्र ठाकुर ने बताया शहर के वार्ड नौ के कुछ लोग उनसे मिले हैं। उन्होंने कहा प्रशासन स्थिति पर नजर बनाए हुए है और प्रभावित लोगों को सुरक्षित स्थान पर शिफ्ट किए जाने को लेकर स्थान चिन्हित किए जा रहे हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021