मुनीष दीक्षित, बीड़ (बैजनाथ) पैराग्लाइडिंग के लिए विश्व प्रसिद्ध बीड़ बिलिंग घाटी के क्योरी में स्थित लैंडिंग साइट में पार्किंग के अभाव में कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

कई प्री व‌र्ल्ड कप और एक विश्व कप की गवाह रही इस घाटी में आज तक लैंडिंग साइट में पार्किंग का प्रबंध नहीं हो पाया है। ऐसे में बाहर से आ रहे पर्यटकों को गाड़िया मजबूरी बस लैंडिंग साइट के साथ सड़क के किनारों पर खड़ी करनी पड़ रही हैं। इससे जहा ट्रैफिक जाम लग रहा है, वहीं पैराग्लाइडिंग की लैंडिंग के समय कभी भी कोई भी ग्लाइडर वाहनों के साथ टकरा सकता है। शनिवार और रविवार को यहा पर्यटकों की काफी भीड़ रहती है। मगर हैरान कर देने वाली बात है कि पर्यटकों की भीड़ के बावजूद यहा व्यवस्था बनाने के लिए पुलिस और प्रशासन की ओर से कोई व्यवस्था नजर नहीं आई।

....

कोविड प्रोटोकाल का नहीं हो रहा पालन

बीड़ बिलिंग में कोविड प्रोटोकाल का कोई पालन नहीं हो रहा है। टेक आफ और लैंडिंग साइट में अधिकाश लोग बिना मास्क के घूम रहे हैं। यहा रोजाना देश के विभिन्न हिस्सों से पर्यटक पहुंचते हैं। ऐसे में लापरवाही भारी पड़ सकती है।

...

बीड़ बिलिंग घाटी में पर्यटकों की संख्या बढ़ने के बाद पुलिस लगातार नजर रख रही है। शनिवार और रविवार को बीड़ और बैजनाथ से पुलिस टीम भेजी गई थी। मौके पर गलत पाìकग के चालान किए हैं। इसके अलावा मास्क न पहनने वालों पर भी कार्रवाई होगी।

-बीडी भाटिया, डीएसपी, बैजनाथ।

......

बीड़ बिलिंग घाटी को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने और यहा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए प्रदेश सरकार लगातार काम कर रही है। यहां नई मंजिल नई राहें योजना के तहत करोड़ों रुपये खर्च किए जा रहे हैं। लैंडिंग साइट के साथ पाìकग का काम शुरू हो चुका है। जल्द पाìकग बनकर तैयार होगी।

- मुल्ख राज प्रेमी, विधायक, बैजनाथ

Edited By: Jagran