संवाद सहयोगी, धर्मशाला : वाटर सप्लाई एंड सेनीटेशन ऑर्गेनाइजेशन डब्ल्यूएसएसओ ने आइपीएच अधिकारियों को पेयजल की स्वच्छता कायम करने के लिए ग्रामीण स्तर पर वाटर सेफ्टी प्ला¨नग कमेटी गठित करने के निर्देश दिए हैं। सामुदायिक सहभागिता सुनिश्चित करने की दिशा में जितने भी विभाग सहायक हो सकते हैं, उनकी भी मदद लेने को कहा है। डीआरडीए हॉल धर्मशाला में ¨सचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग के कांगड़ा जोन के मुख्य अभियंता राजेश बख्शी की अध्यक्षता में डब्ल्यूएसएसओ के सौजन्य से आयोजित जागरूकता कार्यशाला में उपरोक्त निर्देश डब्ल्यूएसएसओ के अधिकारियों ने दिए हैं।

डब्ल्यूएसएसओ से अधीक्षण अभियंता बीएस राणा ने कांगड़ा व चंबा जिला के अधिशाषी अभियंताओं, सहायक अभियंताओं, कनिष्ठ अभियंताओं को तुरंत वाटर सेफ्टी प्लान के तहत वाटर सेफ्टी प्ला¨नग कमेटी के गठन के निर्देश दिए। उन्होंने आह्वान किया कि इसमें सामुदायिक सहभागिता सुनिश्चित की जाए और साथ उस क्षेत्र के उन विभागीय अधिकारियों को भी कमेटी में जोड़ा जाए, जो जिनका उस क्षेत्र की पेयजल योजना के कैचमेंट एरिया से कहीं न कहीं कोई कार्य रहता है। उन्होंने इस कार्यशाला में साफ किया इस कमेटी का दायित्व कैचमेंट एरिया में पानी को शुद्ध रखने की दिशा में कार्य करने के साथ-साथ उपभोक्ता तक शुद्ध पानी पहुंचाने की भी जिम्मेदारी रहेगी।

डब्यूएसएसओ से अधिशाषी अभियंता संजय कौशल ने भी उपयोगी जानकारी कार्यशाला में उपस्थित अधिकारियों को दी और उनसे तुरंत कार्य शुरू करने का आह्वान किया। इस मौके पर आइपीएच मंडल धर्मशाला के अधिशाषी अभियंता विकास बख्शी व अन्य मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप