पालमपुर, जेएनएन। हिमालय जैवसंपदा प्रौद्योगिकी संस्थान (आइएचबीटी) पालमपुर ने लेह और लद्दाख क्षेत्र में उच्च मूल्य वाली सुगंधित फसलों के संवर्धन के लिए लद्दाख फार्मर्स एंड प्रोड्यूसर्स को-ऑपरेटिव लिमिटेड के साथ एमओयू किया है। सोमवार को लद्दाख फार्मर्स एंड प्रोड्यूसर्स को-ऑपरेटिव लिमिटेड लेह और लद्दाख ने उच्च मूल्य की सुगंधित फसलों की खेती, संवर्धन व रणवीरपुरा, थिकसे लेह में प्रसंस्करण इकाई की स्थापना करने के लिए आइएचबीटी के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

आइएचबीटी के निदेशक डाक्टर संजय कुमार ने कहा कि सीएसआइआर ने जुलाई 2017 के दौरान सुगंधित फसलों को बढ़ावा देने के लिए अरोमा मिशन कार्यक्रम शुरू किया तथा सामाजिक-आर्थिक उत्थान व रोजगार सृजन के लिए इन फसलों के तहत 5500 हेक्टेयर अतिरिक्त क्षेत्र लाने का निर्णय लिया। सुगंधित पौधों के मूल्य संवर्धन के लिए प्रसंस्करण इकाई अनिवार्य है। लेह में इस सुविधा की स्थापना से लेह जिले के स्थानीय किसानों को लाभ होगा। उच्च मूल्य वाली सुगंधित फसलों की खेती से लेह-लद्दाख क्षेत्र के किसानों को लाभान्वित किया जा सकता है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस