धर्मशाला/शिमला/कुल्‍लू, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश ने खूब तबाही मचाई है। दो दिन हुई बारिश के कारण 23 लोगों की मौत हो गई है। प्रदेश में 800 से ज्‍यादा सड़कें व 13 राष्‍ट्रीय राजमार्ग बंद रहे। कुल्‍लू में दो पुल टूट गए हैं। मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर का कहना है अब हालात सुधर रहे हैं। बारिश से अब तक 43 लोगों की मौत हाे चुकी है व 574 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। मौसम विभाग ने प्रदेश के छह जिलों में रेड अलर्ट जारी किया है। मंडी, कांगड़ा, शिमला, सोलन, सिरमौर व बिलासपुर में भारी बारिश हो सकती है। सिरमौर, सोलन, शिमला, बिलासपुर व कुल्‍लू में सोमवार को शिक्षण संस्‍थान बंद रहे और चंबा जिला में मंगलवार को अवकाश की घोषणा कर दी गई है। राहत कार्यों के लिए सरकार ने 15 करोड़ रुपये जारी किए हैं।

जिला मंडी में ब्‍यास अपना रौद्र रूप दिखा रही है। ब्‍यास में आई बाढ़ में पंचवक्‍त्र मंदिर डूब गया है व कई वाहन नदी के तेज बहाव में समा गए। बिलासपुर जिला के कठलग गांव में जमीन धंसने से सात घर जमींदोज हो गए। गनीमत रही कि ग्रामीणों को जमीन धंसने का आभास हो गया, अन्‍यथा भारी जानी नुकसान हो सकता था। सोमवार को दस और मकान खाली करवा दिए गए हैं।

बिलासपुर जिला के काठलग में जमीन धंसने के कारण सात मकान जमींदोज हो गए। इस दौरान एक जगह सुरक्षित रुके सात परिवारों के सदस्‍यों को रेस्‍क्‍यू करते लोग।

शिमला में आठ लोगों की गई जान
शिमला में आठ लोगों की मौत हो गई है। 12 से लोग घायल हो गए हैं। राजधानी के आरटीओ कार्यालय के पास बारिश के कारण हुए भूस्खलन में एक घर दब गया, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई। मृतकों में विशाखा 15 साल, दिव्या 18 साल हरि दास 40 साल शामिल हैं। मलबे में दबी महिला कृष्णा की तलाश जारी है। हादसे का शिकार हुआ परिवार जिला सोलन के अर्की धुंधन का रहने वाला है। क्षतिग्रस्त हुए भवन में दो परिवार रहते थे लेकिन एक परिवार हादसे से पहले ही सही सलामत बाहर निकल गया था। वहीं पुलिस थाना ढली में नए निर्माणाधीन भवन के पीछे की दीवार गिर जाने के कारण पत्थर भवन के अंदर घुस गए और कमरे में सो रहे सात व्यक्ति बुरी तरह घायल हो गए।

जिला कुल्‍लू में भारी बारिश के बाद ब्‍यास में आई बाढ़ के कारण बहा मनाली मार्ग का एक हिस्‍सा। इस कारण वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है।

आइजीएमसी में उपचार के दौरान सालम 32 वर्ष की मौत हो गई। रोहडू हाटकोटी के समीप पहाड़ी से चट्टान गिरने से ट्रक ड्राइवर की मौत हो गई। जुब्बड़ हट्टी के समीप चनौग गांव में सुबह करीब 7:30 बजे गोशाला के लिए दूध लेने गई थी कि अचानक भूस्खलन के कारण वह मलबे में दब गई। चनौग निवासी राधा 42 वर्ष की मौके पर ही मौत हो गई। कुमारसैन में ढारे पर पेड़ गिरने से दो मजदूरों की मौत हो गई, जबिक एक अन्य बुरी तरह घायल हो गया। मृतकों की पहचान अर्जुन बुद्धा 19 वर्ष, निवासी वार्ड नंबर पांच चिलसा नेपाल, सन बहादुर 52 वर्ष वार्ड नंबर पांच गांव चिलसा नेपाल के रूप में हुई है।

घर मलबे में दबने से दादा-पोती की हुई मौत

जिला चंबा के मैहला विकास खंड की बंदला पंचायत में मकान की दीवार गिरने से मलबे में दबकर दादा-पोती की मौत हो गई। मृतकों की पहचान 80 वर्षीय कंठ और 8 वर्षीय पल्‍लवी के तौर पर की गई है l घटना की सूचना मिलते ही पुलिस राजस्व विभाग व दमकल विभाग की टीम मौके को रवाना हो गई हैl पंचायत उप प्रधान ने हादसे की पुष्टि की है।

जिला मंडी के दवाडा में मनाली-चंडीगढ़ राष्‍ट्रीय राजमार्ग पर बहती ब्‍यास नदी। इस कारण मार्ग पर वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है।

ट्रक पर मलबा गिरा, चालक की मौत

बिलासपुर जिले के स्वारघाट-बिलासपुर हाईवे पर आधी रात को एक ट्रक भूस्खलन की चपेट में आ गया। ट्रक मलबे और चट्टानों के नीचे दब गया। रविवार सुबह लोगों ने मलबा हटाकर देखा तो चालक अजिंदर सिंह पुत्र हरनाम सिंह निवासी आस्था अपार्टमेंट जीरकपुर पंजाब की मौत हो चुकी थी। रात को किसी ने भी मलबा हटाकर ड्राइवर को बाहर निकालने की कोशिश नहीं की।

टूरिस्‍ट हट समेत बहा व्‍यक्‍त, तेलंगाना के युवक पर गिरे पत्‍थर

जिला कुल्‍लू के मणिकर्ण-बरशैनी मार्ग और तगेरिनाला में भू-स्खलन होने से मार्ग बंद हो गया है। इस दौरान खीर गंगा ट्रैक से वापस लौट रहे एक ग्रुप में शामिल तेलंगाना के युवक 22 वर्षीय राघव भूस्‍खलन को देखने के लिए खड़ा हो गया और उस पर पत्थर गिरने से घायल हो गया। जिसे जरी अस्पताल लाया गया, जहां उसकी मौत हो गई है। जिला कुल्‍लू के उपमंडल बंजार में जीभी खड्ड में एक व्यक्ति बह गया। इसकी पहचान चुन्नी नाल निवासी जीभी के रूप में हुई है। चुन्नी लाल नदी किनारे बने टूरिस्ट हट में मौजूद था और वहां के रसोईघर में चाय बना रहा था। इसी दौरान खड्ड में आई बाढ़ में टूरिस्ट हट उसकी चपेट में आ गया और व्‍यक्‍ित भी साथ ही बह गया। कुछ दूरी पर लोगों ने उसे रेस्‍क्‍यू करने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो पाए। पुलिस मौके के लिए रवाना हो गई है। व्यक्ति का अभी तक कोई पता नही चला है। जिला कुल्‍लू के ही पांडु रोपा में भी एक व्‍यक्‍ित की मौत की सूचना है।

सोलन में बारिश ने मचाई तबाही, बीबीएन में पांच की मौत

जिला सोलन में भारी बारिश के कारण पांच लोगों की मौत हो गई। बद्दी के मानकपुर में कर्मचंद का पुश्तैनी मकान गिर गया। इस मकान में कर्मचंद के अलावा उसका बेटा राजेंद्र सिंह सिंह व राजेंद्र सिंह की पत्नी पूनम सोए हुए थे। सुबह करीब साढ़े तीन बजे मकान के पीछे लगा डंगा ढह गया, जिससे पहाड़ी का मलबा मकान के ऊपर गिर गया और मकान पूरी तरह से दब गया। कर्मचंद व राजेंद्र की मलबे में दबने से मौत हो गई। वहीं डाॅबर कंपनी की दीवार गिरने से दो कामगार दब गए, जिसमें एक की मौत हो गई व दूसरे को पीजीआइ रेफर कर दिया गया। ये दोनों कामगार डाबर कंपनी से अवकाश होने के बाद घर जा रहे थे। सुबह करीब साढ़े छह बजे कंपनी की दीवार इनके ऊपर गिर गई। इससे बिहार राज्य के सहारन जिले के समत बेलदी गांव के विक्की कुमार सिंह (29) की दबने से मौत हो गई। मलपुर पंचायत के पूर्व प्रधान प्रीतम सिंह ने बताया कि सरसा नदी में बहकर एक छह वर्षीय बच्ची मलपुर के समीप किनारे लगी हुई थी। लोगों ने बच्ची को रेस्‍क्‍यू किया लेकिन उसकी मौत हो गई थी। इसके अलावा हरिपुर-संडोली पार्क में एक अज्ञात व्यक्ति का शव मिला। सिरमौर जिला में एक ट्रक के मलबे की चपेट में आने से एक व्‍यक्‍ित की मौत हुई है।

Posted By: Rajesh Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप