धर्मशाला/मनाली, जेएनएन। हिमाचल प्रदेश में मौसम राहत नहीं दे रहा। एक दिन धूप खिलने के बाद फिर से बारिश और बर्फबारी का दौर शुरू हाे गया है। प्रदेशभर में सुबह से बारिश हो रही है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को लाहुल-स्पीति और किन्नौर को छोड़कर बाकी दस जिलों में भारी बारिश और बर्फबारी के साथ अांधी चलने की चेतावनी जारी की है। मौसम विशेषज्ञों ने दस जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

पहाड़ाें पर ताजा बर्फबारी ने ठंड बढ़ा दी है। जिला कांगड़ा की धौलाधार पर्वत श्रृंखला पर बर्फबारी का दौर जारी है। रोहतांग के साथ मनाली की ऊंची चोटियों पर वीरवार दोपहर बाद हल्का हिमपात हुआ है। शुक्रवार को अल सुबह से बर्फबारी का दौर जारी है।

देश-दुनिया के सैलानियों की पहली पसंद रोहतांग पास में डेढ़ फीट ताजा हिमपात हुआ है। रोहतांग दर्रे में बर्फ के फाहे गिरने से बीआरओ की सड़क बहाली का कार्य प्रभावित हुआ है।  मनाली की ओर से बीआरओ सड़क से बर्फ हटाते हुए 38 किलोमीटर दूर राहनीनाला के समीप पहुंच गया है। जबकि लाहुल की ओर भी बीआरओ राक्षी ढांक पहुंच गया है। बर्फ़बारी जारी रहने से बीआरओ का काफिला मढी व कोकसर ट्रांजिट कैम्प लौट आया है। लाहुल व मनाली के ऊंचाई वाले ग्रामीण क्षेत्रों में भी बर्फ के फाहे गिर रहे हैं। बीआरओ कमांडर कर्नल उमा शंकर ने बताया कि वीरवार शाम से रोहतांग में भारी बर्फबारी जारी है। रोहतांग दर्रे में डेढ़ फीट जबकि कोकसर व मढी में 8 इंच से अधिक बर्फ़बारी हुई है। बीआरओ की टीम कोकसर व मढी लौट आई है। मौसम साफ होते ही बीआरओ सड़क बहाली में जुट जाएगा।

रोहतांग पास पर डेढ़ फीट ताजा हिमपात हो चुका है। बारालाचा, कुंजुम दर्रा समेत मनाली की ऊंची चोटी मकरवे, शिकरवे, सेवन सिस्टर पीक, मनाली पीक, लद्दाखी पीक, हनुमान टिब्बा, देउ टिब्बा, हामटा पास आदि में भी हिमपात हुआ है जिससे तापमान में गिरावट दर्ज की है। रोहतांग पास पर भारी बर्फबारी से बीआरओ का सड़क बहाली कार्य प्रभावित हुआ है। बीआरओ वीरवार को तो खराब मौसम में भी कार्य में जुटा ररहा। लेकिन शुक्रवार को ज्यादा बर्फबारी होने से काम प्रभावित हुआ है। मनाली की ओर से बीआरओ के जवान मढ़ी से तीन किमी आगे निकल गए हैं। दोनों ओर से रोहतांग बहाली अब 26 किमी शेष रह गई है।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस