शिमला, धर्मशाला, जागरण टीम। Himachal Weather Update, हिमाचल प्रदेश में बारिश बर्फबारी के कारण शीतलहर तेज हो गई है। बर्फबारी के कारण 136 सड़कें यातायात के लिए बंद हैं। मौसम विभाग के अनुसार आज मंगलवार को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहने की संभावना है। आठ दिसंबर यानी बुधवार को बर्फबारी व बारिश की संभावना है। सोमवार को राजधानी शिमला सहित मनाली में सोमवार को सीजन का पहला हिमपात हुआ। मनाली में दो इंच, जबकि शिमला में डेढ़ इंच बर्फ गिरी।

रविवार रात से सोमवार तक शिंकुला, कुंजम व बारालाचा में दो फीट, रोहतांग में डेढ़ फीट ताजा हिमपात हुआ। मनाली के सोलंगनाला, कोठी, गुलाबा में आधा फीट से नौ इंच तक बर्फ गिरी। शिमला के बालूगंज में बर्फ के कारण वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई व जाम लग गया।

ऊपरी शिमला के करीब 100 बस रूट प्रभावित हुए हैं। 30 बसें बर्फ में फंसी हुई हैं। प्रदेशभर में 136 सड़कें यातायात के लिए बंद हैं। इनमें 127 लाहुल-स्पीति, छह मंडी, जबकि कुल्लू, किन्नौर व चंबा में एक-एक सड़क बंद है। 39 ट्रांसफार्मर खराब होने से बिजली आपूर्ति बाधित है। सिरमौर में 23, चंबा में 11, लाहुल-स्पीति में दो और मंडी में तीन ट्रांसफार्मर खराब हैं। इसके कारण बिजली आपूर्ति बाधित है। लाहुल-स्पीति में छह पेयजल योजनाएं प्रभावित हुई हैं।

हिमपात और बारिश के बाद प्रदेश में शीतलहर चल रही है। जनजातीय जिलों में जनजीवन प्रभावित हुआ है। न्यूनतम तापमान में दो से तीन और अधिकतम तापमान में तीन डिग्री सेल्सियस तक गिरावट आई है। मैदानी क्षेत्रों में रविवार रात से सोमवार दोपहर तक तेज हवा के साथ बारिश हुई।

चूड़धार की यात्रा पर पांच माह के लिए रोक

नाहन। शिरगुल महाराज की तपस्थली चूड़धार की यात्रा पर प्रशासन ने बर्फबारी के कारण पांच माह के लिए रोक लगा दी है। चूड़ेश्वर सेवा समिति के स्टाफ को भी अवकाश पर भेज दिया गया है। स्टाफ मई के प्रथम दिन चूड़धार लौटेगा। दिसंबर से अप्रैल तक चूड़धार में 10 से 12 फीट तक बर्फबारी होती है।

किसानों-बागवानों सहित पर्यटक खुश

शिमला, मनाली सहित प्रदेश के अन्य पर्यटन स्थलों में बर्फ देख पर्यटक रोमांचित हो गए। वहीं, मैदानी इलाकों में बारिश से किसानों को कुछ राहत मिली है। बर्फबारी बागवानी के लिए भी फायदेमंद मानी जा रही है।

हिमस्खलन की चेतावनी के बाद प्रशासन सतर्क

रक्षा भूभाग अनुसंधान (डीजीआरई) की ओर से हिमस्खलन की चेतावनी देने के बाद कुल्लू के साथ लाहुल स्पीति प्रशासन सतर्क हो गया है। डीजीआरई ने मनाली के ऊपरी क्षेत्रों सोलंगनाला, धुंधी व अटल टनल के दोनों ओर सोलंगनाला से धुंधी में हिमस्खलन की चेतावनी दी है। एसपी लाहुल स्पीति मानव वर्मा और एसडीएम मनाली डा. सुरेंद्र ठाकुर ने कहा कि लोगों को सतर्क कर दिया है।

कहां कितना तापमान रहा (डिग्री सेल्सियस)

  • स्थान, न्यूनतम, अधिकतम
  • शिमला, 5.1, 10.0
  • सुंदरनगर, 2.7, 19.2
  • भुंतर, 6.9, 12.3
  • कल्पा, -0.2,0.8
  • धर्मशाला,7.8,17.2
  • ऊना,10.6,25.5
  • नाहन,11.1,22.0
  • केलंग,-3.4,1.2
  • सोलन,6.2,20.0
  • मनाली,0.0,9.2

Edited By: Rajesh Kumar Sharma