धर्मशाला, जागरण संवाददाता। Sawan Somvar, सावन के तीसरे सोमवार को मौसम सुहावना होने से श्रद्धालुओं ने कुछ राहत की सांस ली है। श्रद्धालु आनंद से शिव मंदिरों में पहुंच रहे हैं। इससे हले 12 जुलाई के सोमवार से लेकर पहले व दूसरे सावन के सोमवार को हुई बारिश से लोग सहमे हुए थे। 12 जुलाई की सुबह हुई बारिश ने धर्मशाला, भागसूनाग, शिला व शाहपुर में तबाही मचाई थी। पहले व दूसरे सोमवार को भी बारिश अधिक हुई। बारिश के बावजूद पहले व दूसरे सोमवार को श्रद्धालुओं का हौसला कम न हुआ और शिव मंदिरों में पूजा अर्चना के लिए पहुंचे। ऐसे में सावन के तीसरे सोमवार को आज सुबह ही धूप खिली है और श्रद्धालुओं को मंदिर में जाने का समय बेहतर मिल गया है। बैजनाथ के शिव मंदिर, अघंजर महादेव मंदिर खनियारा, काठगढ़ शिव मंदिर, त्रिलोकपुर शिव मंदिर सहित अन्य शिव मंदिरों में श्रद्धालुओं में श्रद्धालु शिव के जयकारे लगाते हुए पूजा अर्चना कर रहे हैं। हालांकि मंदिरों में कोविड-19 नियमों की पालना की जा रही है।

बारिश से सहमे हैं लोग

12 जुलाई की सुबह भी ऐसे ही बारिश शुरू हुई थी और दस बजे तक बारिश ने तबाही मचाना शुरू कर दी थी। मांझी खड्ड ने अपना रौद्र रूप दिखाया तो शिला, पासू सहित अन्य कई इलाकों में भूमि कटाव हुआ और आस पास के घरों को नुकसान हुआ। इस कारण कई लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाना पड़ा। इसी तरह राजोल में गज खड्ड ने तबाही मचा दी। यही नहीं शाहपुर विधानसभा क्षेत्र के रुलेहड़ा में दस लोगों की जान गई, कई मकान मलबे में दफन हो गए। इसके अलावा भी भारी नुकसान हो चुका है। यही कारण है कि अब बारिश से लोग सहम रहे हैं। फिर भी शिव मंदिरों में पहुंच रहे हैं।

आज चार जिलों में भारी बारिश की चेतावनी

हालांकि मौसम विभाग ने आज भी कांगड़ा सहित बिलासपुर, सोलन व सिरमौर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। लेकिन सुबह की शुरुआत धूप के साथ हुई। प्रदेश में सात अगस्‍त तक बारिश का दौर जारी रहने की संभावना है।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma