गगल, संवाद सहयोगी। Himachal Vigilance Team Raid, कांगड़ा जिले के गगल और इंदौरा क्षेत्र में शनिवार को विजिलेंस ने पांच निजी बीएड कालेजों में निरीक्षण के लिए पहुंचे राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) के चार अधिकारियों को रिश्वत के साथ गिरफ्तार किया है। गगल में 11 लाख, 48 हजार व इंदौरा में दो लाख रुपये बरामद किए हैं। गगल क्षेत्र में अधिकारियों ने शुक्रवार को ही चार शिक्षण संस्थानों का निरीक्षण कर लिया था। शनिवार को दिन में 11.30 बजे अधिकारियों ने गगल स्थित कांगड़ा हवाई अड्डे से दिल्ली जाना था, लेकिन इससे पहले विजिलेंस टीम ने होटल में पहुंच कार्रवाई की। आरोपित अधिकारियों ने शुक्रवार को गगल क्षेत्र में एक निजी होटल में दो कमरे बुक करवाए थे। गगल में ठहरे अधिकारियों में एक महिला व पुरुष थे।

विजिलेंस को सूचना मिली थी कि ये अधिकारी निरीक्षण के नाम पर शिक्षण संस्थान प्रबंधन से पैसे ऐंठ रहे हैं। इस पर विजिलेंस की आठ सदस्यीय टीम शनिवार सुबह ही होटल के कमरे में पहुंच गई। टीम को देखकर दोनों अधिकारी घबरा गए। जांच के दौरान विजिलेंस की टीम ने उनके कमरे से 11 लाख 48 हजार रुपये बरामद किए।

विजिलेंस टीम के सदस्य एएसआइ भाग सिंह ठाकुर ने बताया कि अभी तक इस बात का पता नहीं चल पाया है कि आरोपितों ने किस-किस कालेज से कितने-कितने रुपये लिए हैं। आरोपित संजीव कुमार निवासी अलीगढ़ व काव्या दुबे निवासी झांसी को गिरफ्तार किया है। वहीं, इंदौरा क्षेत्र में भी एनसीटीई के दो अधिकारियों डा. सीमा शर्मा निवासी भवानी नगर, मेरठ और डा. महेश प्रसाद निवासी शिवाजीनगर, भोपाल को दो लाख रुपये के साथ विजिलेंस ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधीक्षक (विजिलेंस) बलवीर सिंह ने बताया कि आरोपितों को रविवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा। विजिलेंस मामले की तह तक जाने में जुटी है। कितने समय से इस तरह से जांच के नाम पर रकम वसूली जा रही है। जरूरत पड़ी तो संबंधित कालेजों का रिकार्ड भी खंगाला जाएगा।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma