मनाली, जसवंत ठाकुर। Himachal Lahaul Shinkula Pass, बर्फ से ढके 16580 फीट ऊंचे शिंकुला दर्रे के दीदार को तैयार हो जाएं। हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम शुक्रवार से डीलक्स बस सेवा शुरू करने जा रहा है। निगम की टीम डीलक्स बस लेकर शिंकुला दर्रे के ट्रायल पर निकली थी। बस का ट्रायल सफल रहा है। निगम शुक्रवार से 35 सीटर डीलक्स बस सेवा शुरू करने जा रहा है। निगम ने दशहरा सीजन को लेकर कुल्लू मनाली आने वाले पर्यटकों की सुविधा को देखते हुए यह बस सेवा शुरू की है। बस किराया 1000 रुपये निर्धारित किया गया है। निगम की यह बस सुबह सात बजे मनाली से चलेगी और अटल टनल के दीदार करवाते हुए दोपहर को शिंकुला दर्रे में पहुंचेगी। एक घंटा बर्फीली वादियों में सैर करने के बाद बस शाम को मनाली लौटेगी।

शिंकुला दर्रे में इन दिनों करीब एक फीट बर्फ की परत बिछी हुई है। बर्फ से ढकी वादियों का नजारा देखने योग्य है। पर्यटक यहां पहुंचकर चारों ओर ढके बर्फ के पहाड़ को देखकर बहुत खुश होगा। हालांकि यह बस सेवा मौसम पर निर्भर रहेगी। पर्यटकों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाएगा। बर्फबारी होने की सूरत में बस दारचा तक ही जाएगी। हालांकि रोहतांग दर्रे में भी बर्फ दीदार दो रहे हैं लेकिन रोहतांग से अधिक बर्फ शिंकुला में गिरी हुई है।

16 हजार फीट ऊंचे शिंकुला दर्रे के लिए पर्यटक अपने वाहन में भी पहुंच सकते हैं। लेकिन यहां के माहौल में गाड़ी चलाना उतना आसान नहीं है। बर्फ पर फ‍िसलन सहित इतनी ऊंचाई पर सांस लेने में भी दिक्‍कत का सामना करना पड़ता है, जिस कारण कई बार तबीयत भी बिगड़ सकती है। ऐसे में मनाली से इस बस के अलावा लाेकल टैक्‍सी में शिंकुला दर्रे का रुख किया जा सकता है।

पिछले दिनों हुई बर्फबारी दशहरा सीजन में पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनेगी। दशहरा के चलते पर्यटकों का कुल्लू मनाली आना शुरू हो गया है। हालांकि नवरात्र में भीड़ कम है। लेकिन नवरात्र संपन्न होते ही कुल्लू मनाली में पर्यटकों का सैलाब उमड़ेगा।

हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम परिवहन शाखा के सहायक प्रबंधक राम पाल ने बताया कि वीरवार को 35 सीटर डीलक्स बस का शिंकुला दर्रे के लिए सफलतापूर्वक ट्रायल किया गया है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार सुबह से निगम बस सेवा शुरू करने जा रहा है। किराया एक हजार निर्धारित किया है। बस सुबह चलकर शाम को मनाली लौटेगी।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट