शिमला, जागरण संवाददाता। Himachal Pradesh Colleges, प्रदेश के 18 कालेजों को उत्कृष्ट का दर्जा मिलेगा। सरकार इन कालेजों को 18 करोड़ की ग्रांट जारी करेगी। प्रत्येक कालेज को एक-एक करोड़ का बजट मिलेगा। उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक डा. अमरजीत शर्मा की ओर से इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी गई है। जिन कालेजों को उत्कृष्ट कालेज का दर्जा दिया जाएगा, उनके नाम भी तय कर दिए गए हैं। इनमें नौ कालेज घोषित कर दिए हैं, जबकि नौ प्रस्तावित हैं। डा. अमरजीत शर्मा की अध्यक्षता में बैठक हुई। इसमें 18 महाविद्यालयों के प्राचार्यों व वरिष्ठ प्रवक्ताओं ने भी भाग लिया।

निदेशक ने बताया कि प्रत्येक उत्कृष्ट महाविद्यालय को मूलभूत सुविधाओं को और मजबूत करने के लिए सरकार की ओर से एक करोड़ रुपये की राशि दी जाएगी। बैठक में  अतिरिक्त निदेशक डा. प्रमोद चौहान, डा. अशीथ मिश्रा, डा. हरीश भी मौजूद रहे।  

कालेज भवन का होगा एक जैसा रंग

बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रत्येक उत्कृष्ट महाविद्यालय के मुख्यद्वार से लेकर पूरे परिसर में एक ही रंग किया जाए। मुख्यद्वार पर इलेक्ट्रानिक डिस्पले बोर्ड लगाने को कहा गया है, ताकि इस बोर्ड पर विद्यार्थियों के लिए विशेष जानकारी दी जा सके। कक्षाओं में एक जैसा फर्नीचर उपलब्ध करवाने का फैसला लिया गया। इन कालेजों में एक साथ वर्चुअल कक्षाएं लगेंगी। इसके अलावा कालेजों में नए विषय शुरू किए जाएंगे। सांस्कृतिक गतिविधियों के लिए कालेज को 20 लाख रुपये मिलेंगे। निदेशक ने महाविद्यालयों में करियर एवं गाइडेंस ब्यूरो को मजबूत करने को भी कहा है। आनलाइन प्रवेश प्रक्रिया, पुस्तकालयों के सुधार, वेबसाइट की सुविधा, विद्यार्थियों की उपस्थिति  इलेक्ट्रानिक माध्यम से लगाने व ई-रिर्सोस का प्रयोग करने का भी निर्देश दिया।    

ये बनेंगे उत्कृष्ट महाविद्यालय

डिग्री कालेज चौड़ा मैदान शिमला, डिग्री जोगेंद्रनगर, नूरपुर, बिलासपुर, कुल्लू, ऊना, नालागढ़, नादौन और डिग्री कालेज पांवटा साहिब को उत्कृष्ट महाविद्यालय घोषित कर दिया है। वहीं, डिग्री कालेज हमीरपुर, अंब, चंबा, थुरल, सरकाघाट, ठियोग, अर्की, शिलाई व ढलियारा (कांगड़ा) अभी प्रस्तावित हैं।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma