शिमला, राज्य ब्यूरो। Himachal IAS Officers, हिमाचल सरकार के प्रधान सचिव ओंकार शर्मा को आयुर्वेदिक चिकित्सकों का तबादला करना महंगा पड़ा। उन्हें 30 दिन में विभाग से बदल दिया गया है। आयुर्वेदिक चिकित्सकों की पोस्टिंग प्रदेश के जनजातीय क्षेत्र पांगी, लाहुल-स्पीति में हुई, मगर ऐसे 200 चिकित्सक नेताओं से नजदीकियां होने के कारण शिमला शहर सहित सुविधा के क्षेत्रों में सेवा दे रहे थे। परिणामस्वरूप जनजातीय क्षेत्रों के लोगों को स्वास्थ्य सेवा नहीं मिल रही। राजधानी शिमला में ही 75 चिकित्सक कई वर्ष से डटे हुए हैं। ये पपरोला व सोलन में प्रतिनियुक्ति पर हैं, जबकि इनका वेतन दूरदराज के क्षेत्रों में स्थित स्वास्थ्य संस्थानों से निकल रहा है।

ओंकार शर्मा ने ऐसे चिकित्सकों की पदोन्नति को रद किया और तबादला स्थल पर भेजने के निर्देश जारी किए। इस पर सरकार ने उनसे आयुर्वेद विभाग वापस ले लिया। एक माह में ओंकार का तीसरी बार तबादला किया गया है। वर्तमान भाजपा सरकार के सत्ता में आने के बाद से ओंकार का नौ बार तबादला किया जा चुका है।

आइएएस अधिकारी का बार-बार तबादला करने पर भड़के माकपा विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि सरकार के लचर निर्णयों से जनजातीय क्षेत्रों के लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित रहना पड़ रहा है। ओंकार ने हाल ही में पांगी व लाहुल-स्पीति के कुछ चिकित्सकों की पदोन्नति रद की थी। ये चिकित्सक एक साल तक अब पदोन्नत नहीं हो सकेंगे। ओंकार ने कहा कि मैंने सरकार के तबादला आदेशों का पालन किया है। जो जिम्मेदारी मुझे सौंपी गई है, उसका पालन होगा।

ब्रसकोन ने सीएम के विशेष सचिव का पदभार संभाला

शिमला। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हरबंस सिंह ब्रसकोन ने शिमला स्थित राज्य सचिवालय में शनिवार को मुख्यमंत्री के विशेष सचिव के तौर पर पदभार संभाल लिया। शुक्रवार को मुख्य सचिव अनिल खाची की ओर से उनकी मुख्यमंत्री कार्यालय में विशेष सचिव की तैनाती का आदेश जारी हुआ था। ब्रसकोन इस समय राज्य सरकार के सर्वाधिक भरोसेमंद अधिकारियों में शामिल हैं। बतौर राज्य सूचना एवं जनसंपर्क निदेशक पद पर ब्रसकोन के उत्कृष्ट सेवाओं को देखते हुए सरकार ने उन्हें मुख्यमंत्री कार्यालय में नियुक्त प्रदान की है। ब्रसकोन 2018 से राज्य सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के निदेशक पद पर सेवारत हैं और सभी समाचार पत्रों, मीडिया हाउस के साथ उनके सौहार्दपूर्ण संबंधों के मद्देनजर प्रदेश सरकार की ओर से उन्हें नया दायित्व सौंपा गया है। प्रदेश सरकार की ओर से उन्हें आबकारी एवं कराधान विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई थी, उसे भी उन्होंने बेहतरीन तरीके से निभाया।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma