मनाली, जसवंत ठाकुर। Himachal Pradesh Snowfall Places, दिसबंर महीने में बर्फबारी का आनंद लेना चाहते हैं तो यह खबर आपके लिए खास है। पर्यटन नगरी मनाली में रोहतांग के अलावा बहुत से पर्यटन स्थल हैं जहां आप वाहन द्वारा पहुंच सकते हैं और बर्फ के दीदार कर सकते हैं। दिसबंर से मार्च के बीच पर्यटन नगरी मनाली में ही बर्फ के फाहे गिरते हैं। पर्यटक यहां बिना संकोच के घूमने आ सकते हैं। बर्फ़बारी से अब सड़कें बन्द होने का भी कोई डर नहीं है। बीआरओ और नेशनल हाईवे के पास आधुनिक मशीनें हैं और लोक निर्माण विभाग ने भी बर्फ़बारी में सड़कों को बहाल करने की विशेष तैयारी की हुई है।

अटल टनल का नार्थ पोर्टल

दिसंबर महीने में मनाली आने वाले पर्यटकों के लिए अटल टनल रोहतांग बहुत ही आनंदित करेगी। इस पर्यटन स्थल में दो से चार फीट तक बर्फ गिरती है। खराब मौसम में सड़क बंद हो सकती है लेकिन अधिकतर समय बीआरओ सड़क को बहाल ही रखता है। यह पर्यटन स्थल मनाली से 40 किमी दूर है। आप मनाली से अपने वाहन में यहां पहुंच सकते हैं। मनाली से टैक्सी सर्विस की भी सुविधा है।

मनाली से 35 किलोमीटर दूर सिस्सू

अटल टनल बनने के बाद लाहुल का पर्यटन स्थल सिस्सू पर्यटकों की पहली पसंद बनकर उभरा है। दिसबंर महीने में यहां तीन से चार फीट बर्फ पड़ती है। भारी बर्फबारी के समय यह पर्यटन स्थल पर्यटकों के लिए बन्द रहता है। लेकिन बीआरओ मौसम साफ होते ही सड़क बहाल कर लेता है। यह पर्यटन स्थल मनाली से 35 किमी दूर है।

यहां भी पर्यटक अपने वाहन में पहुंच सकते हैं और टैक्सी सेवा का भी लाभ ले सकते हैं।

धुंधी व टनल का साउथ पोर्टल

अटल टनल के साउथ पोर्टल व धुंधी में पर्यटक दिसबंर में आसानी से बर्फ के दीदार कर सकते हैं। यह पर्यटन स्थल मनाली से 27 किमी दूर है। दिसबंर महीने में यहां आने वाले पर्यटक बर्फ की साहसिक खेलों का आनंद के सकते हैं। यहां आप अपने वाहन में आसानी से पहुंच सकते हैं।

सोलंग, अंजनी महादेव और फातरू

दिसबंर महीने में मनाली आने वाले पर्यटकों को सोलंग नाला, अंजनी महादेव व फातरू में बर्फ के दीदार होंगे। सोलंग नाला सहसिक खेलों का हब है। आप बर्फ के दीदार के साथ स्नो स्कूटर, स्कीइंग, स्नो स्लेज, माउंटेन बाइक, स्नो ट्यूब, एटीवी, घुड़सवारी, जोरविंग, जीप लाइन सहित अनेकों खेलों का आनंद ले सकते हैं। सोलंग नाला तक वाहन में पहुंच सकते हैं, जबकि अंजनी महादेव में घोड़ो में और फातरु में रोपवे से पहुंचा जा सकता है।

गुलाबा और कोठी

पर्यटन स्थल कोठी व गुलाबा में पर्यटक दिसबंर में आसानी से बर्फ के दीदार कर सकते हैं। पर्यटन स्थल कोठी मनाली से 15 किलोमीटर जबकि गुलाबा 22 किमी दूर है। इन पर्यटन स्थलों में पर्यटक अनेकों साहसिक गतिविधियों का आनंद उठा सकते हैं। यहां बने ईको फ्रेंडली नेचर पार्क का आनंद उठा सकते हैं।

हामटा में बर्फ के घर में रुकें

बर्फ के दीदार करने के साथ-साथ अगर आप बर्फ से बने घर ईग्लू में भी रहने का आनंद उठाना चाहते हैं तो हामटा पर्यटन स्थल में जरूर आएं। हामटा मनाली से 18 किमी दूर है। भारी बर्फबारी में सड़क बंद रहती है। लेकिन एडी परियोजना होने के चलते मार्ग जल्द बहाल हो जाता है। यहां दिसबंर से फरवरी तक बर्फ से बने घर ईग्लू में रह सकते हैं। इस पर्यटन स्थलों में आप अपने वाहन में आ सकते हैं।

यह भी पढ़ें:

Lahaul Avalanche: लाहुल के यनिगंग ग्लेशियर में हिमस्खलन, नवंबर में एवलांच से चिंतित लोग, देखिए वीडियो

हिमपात के दौरान मैक्‍लोडगंज में रोपवे से सहायता भेजने की तैयारी में प्रशासन, धर्मशाला में बैठक कर बनाई रणनीति

Edited By: Rajesh Kumar Sharma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट