चिंतपूर्णी, संवाद सूत्र। चिंतपूर्णी मंदिर में रविवार को श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती है। इस बीच जेब कतरे भी सक्रिय रहते हैं। सात से आठ लाख की कार में सवार होकर मंदिर पहुंचे तीन युवकों को सुरक्षा कर्मियों ने जेब काटते हुए दबोचा है। होमगार्ड जवान ने एक युवक को तो रंगेहाथ दबोचा है, जबकि उसके दो साथी सराय में आराम कर रहे थे। पूछताछ में आरोपित ने कबूल किया कि वह गाड़ी में यहां पहुंचे हैं व वे यही काम करते हैं।

यह मामला रविवार सुबह पांच बजे का है। मंदिर प्रबंधन की ओर से जेबकतरों से सतर्क रहने की एनाउंसमेंट की जा रही थी। कपूरथला पंजाब से आए श्रद्धालु ने मंदिर न्यास की चेतावनी सुनते ही पर्स से पैसे निकालकर कमीज की जेब में डाल लिए। लेकिन कुछ देर बाद ही उसकी जेब से मोबाइल और पर्स गायब हो गए। श्रद्धालु मंदिर के कंट्रोल रूम में शिकायत करने पहुंचा तो वहां होमगार्ड जवान ने पहले से आरोपित को दबोच रखा था, जिससे सारा सामान बरामद कर लिया गया।

होमगार्ड केपीसी इंचार्ज पूर्ण सिंह ने बताया कि उन्‍होंने अन्य होमगार्ड की सहायता से पहले से ही एक जेबकतरे को पकड़कर रखा हुआ था, जिसके पास से उक्त श्रद्धालु का पर्स निकला। पकड़ा गया जेबकतरा काफी समय से चिंतपूर्णी मन्दिर में श्रद्धालुओं की जेबों को काट रहा था और रविवार को इसके दो साथी जो कि एक सराय में ठहरे हुए थे, वहां पर होमगार्ड ने बड़ी होशियारी से सराय के कमरे में बाहर से ताला लगाकर दोनों को कमरे के अंदर बंद कर दिया। लेकिन कमरे के अंदर बंद दोनों युवकों ने दरवाजे की कुंडी तोड़ डाली और एक भाग गया व दूसरे को होमगार्ड ने धर दबोचा।

पकड़े गए दोनों युवकों को पुलिस के हवाले कर दिया गया है। जेबकतरों को दबोचने में पीसी इंचार्ज होमगार्ड पूर्ण सिंह और उनकी टीम गृहरक्षक सुमन कुमारी, राजकुमार, दिलबाग सिंह, सुरेंद्र कुमार की भूमिका रही।

पूर्ण सिंह ने बताया कि पिछले तीन चार दिन से मन्दिर में श्रद्धालुओं की जेबों को कटने की शिकायतें मिल रही थी और होमगार्ड ने बड़ी ही मुस्तैदी से इन जेबकतरे और उसके साथियों को मदिर में धर दबोचा है।

मंदिर अधिकारी बलवंत पटियाल ने बताया कि मंदिर में सुबह के समय होमगार्ड ने एक जेबकतरे को धर दबोचा और उसके एक साथी को एक सराय से पकड़ा है उन्होंने बताया कि पकड़े गए दोनों जेबकतरों के दो साथी भागने में सफल रहे हैं। ये जेब कतरे एक कार में आए हुए थे और शनिवार को रात एक सराय में ठहरे हुए थे। बताया जा रहा है कि कुछ महीने पहले भी इन जेबकतरों को मंदिर में होमगार्ड ने पकड़ा था और पुलिस के हवाले किया था। वहीं पकड़े गए जेबकतरे ने बताया कि वे लुधियाना का रहने वाला है और उसके साथी मिलकर यही काम करते हैं।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma