शिमला, रमेश सिंगटा। Himachal Police, हिमाचल पुलिस के फ्रंट लाइन वर्कर कोरोना के खिलाफ जंग में डटे हुए हैं। कोरोना काल में 2750 कर्मचारी व अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इनमें से 2161 स्वस्थ हो गए हैं, जबकि 577 होम आइसोलेट हैं। इस वैश्विक महामारी में पांच कर्मी जान गवां चुके हैं। पहली लहर हो या दूसरी पुलिस लगातार जनसेवा में जुटी रही। यही नहीं महिला कर्मियों ने भी पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर संकटकाल में लोगों की मदद की है।

इनकी हुई मौत

कोरोना से तीसरी आइआरबी पंडोह में कार्यरत एचएचसी धमेश्वर, पांचवी आइआरबी बस्सी में एएसआइ चंद्रशेखर, सोलन में कार्यरत स्वीपर नंदा देवी, जुंगा में कार्यरत कुक रामलाल व मंडी में बार्बर घनश्याम की मौत हो गई। पहली मौत पिछले साल नवंबर में हुई थी।

यह भी पढ़ें: कोविड वैक्‍सीनेशन के बाद कुछ समय के लिए डाउन होती है इम्‍यूनिटी, जानिए किस तरह बरतें सावधानी

यह भी पढ़ें: उच्च रक्तचाप के मरीजों के लिए कोरोना ज्यादा खतरनाक, 35 फीसद पहाड़ी लोग भी इसकी चपेट में, जानिए बचाव के उपाय

24 घंटे में आए 26 पॉजिटिव

पिछले चौबीस घंटे में प्रदेश में 26 पुलिस कर्मी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। सात पुलिस कर्मचारी अस्पताल में उपचाराधीन हैं।

पुलिस कर्मियों की स्थिति

अधिकांश को कोरोना वैक्‍सीन लग चुकी

एसपी कानून व्यवस्था भगत ठाकुर का कहना है कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे पुलिस कर्मियों में से ज्यादातर अब स्वस्थ हो गए हैं। अच्छी बात यह कि अधिकांश को कोरोना वैक्सीन लग गई है।

यह भी पढ़ें: Himachal Coronavirus Update: कोरोना संक्रमित मरीजों के स्वस्थ होने की दर में सुधार, मौत का आंकड़ा बढ़ा

यह भी पढ़ें: हिमाचल में अब चेरी के साथ सेब और सब्‍ज‍ियां खरीदने भी खेतों में पहुंचेंगी नामी कंपनियां, पढ़ें खबर