शिमला, राज्य ब्यूरो। Chief Secretary Anil Khachi Isolate, प्रदेश के मुख्य सचिव अनिल खाची व स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी आइसोलेट हो गए हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव राजस्व आरडी धीमान के पॉजिटिव आने के बाद दोनों ने खुद को आइसोलेट कर दिया है। मुख्य सचिव व स्वास्थ्य सचिव आरडी धीमान के साथ हुई बैठक में मौजूद थे। इस कारण आइसोलेट हुए हैं। इसके साथ ही अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त प्रबोध सक्सेना अपने ससुर के कोविड पॉजिटिव आने के बाद आइसोलेट हो गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देश के अनुसार छह दिनों के बाद इन सभी का कोविड टेस्ट होगा।

प्रदेश सचिवालय में अभी तक करीब 25 अधिकारी व कर्मचारी कोविड पॉजिटिव आ चुके हैं, जबकि पहली लहर में पॉजिटिव आए लोगों की संख्या को शामिल किया जाए तो करीब 70 कर्मचारी व अधिकारी पॉजिटिव आ चुके हैं। मुख्य सचिव अनिल खाची, स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी व अतिरिक्त मुख्य सचिव वित्त प्रबोध सक्सेना घर से ही फाइलें निपटा रहे हैं।

कोरोना से बचाव के लिए टीका है जरूरी

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने कहा अब तो कोरोना संक्रमण से बचाव एकमात्र उपाय वैक्सीन डोज है। मैंने वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली है और शारीरिक और मानसिक तौर पर स्वस्थ महसूस कर रहा हूं। वैक्सीन डोज लगवाने का लाभ ये हुआ कि मैं सरकारी कामकाज करने के लिए एहतियाती उपाय करके निकल रहा हूं। जिन लोगों ने अभी तक कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाई है, उन लोगों से आग्रह करना चाहता हूं कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ज्यादा खतरनाक है। इसमें सर्वाधिक जरूरी है कि वैक्सीन डाेज लगवाई जाए और बचाव का प्रभावशाली उपाय अपनाया जाए। इसके बाद मास्क लगाना, दो गज शारीरिक दूरी और तय समय के बाद हाथ धोने से सुरक्षा प्राप्त होती रहेगी। देखा ये जा रहा है कि लोग अपनी मर्जी से धारणा बना कर चल रहे हैं कि वैक्सीन लगाने का कोई लाभ नहीं है। ऐसे लोग स्वयं तो संकट में रहेंगे मगर दूसरे लोगों का जीवन भी संकट में डाल रहे हैं। इसलिए इस तरह की अफवाहें फैलाने वालों की ओर ध्यान दिए बिना लोग वैक्सीन लगवाने के लिए घर से निकलें। अब तो सरकार ने युवा पीढ़ी को भी संक्रमण से सुरक्षित करने के लिए वैक्सीन लगाने के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है और शीघ्र ही युवा पीढ़ी में साढे़ इक्कतीस लाख लोगों को वैक्सीन डोज प्राप्त होगी।