धर्मशाला/शिमला, जेएनएन। सोलन जिला में कोरोना संक्रमण के छह मामले सामने आए हैं। जिला में संक्रमितों का आंकड़ा 981 हो गया है। जिला में सक्रिय मरीज 361 हो गए हैं। इसके अलावा जिला कांगड़ा में दो कोरोना संक्रमण के मामले पेश आए हैं, इनमें एक पुलिस जवान भी शामिल है। तीन मरीज स्वस्थ हुए हैं। लंबागांव निवासी 48 वर्षीय पुलिस कर्मी बैजनाथ में तैनात है। बेंगलुरू से लौटा गरली परागपुर का 52 वर्षीय व्यक्ति भी संक्रमित पाया गया है, व्यक्ति संस्थागत क्वारंटाइन सेंटर योल में था।

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकडा लगातार बढ रहा है। सोमवार को जिला चंबा में कोरोना संक्रमण के दो नए मामले सामने आए हैं, जबकि नौ मरीज स्वस्थ हुए हैं। ये सभी ऊना जिला के हैं। हिमाचल प्रदेश में रविवार को 162 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए। प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या 4157 पर पहुंच गई है। अब एक्टिव केस 1377 हो गए हैं। अब तक 2324 संक्रमित स्वस्थ हुए हैं। प्रदेश में शनिवार व रविवार को सबसे ज्यादा सोलन से 61, कांगड़ा से 52, सिरमौर से 34, मंडी व कुल्लू से 27 -27,  बिलासपुर से 21, हमीरपुर से 20, शिमला से 14, ऊना व चंबा से 13-13 मामले पॉजिटिव आए हैं। स्वस्थ हुए संक्रमितों में चंबा से 53, हमीरपुर से 28, सिरमौर से 22, कुल्लू से 19, सोलन से 14, कांगड़ा से 13, बिलासपुर से 9, ऊना से 7,  शिमला व मंडी से दो-दो केस हैं।

जिला शिमला में कोरोना पॉजिटिव मामलों में कुमारसैन में चार, नेरवा, मतियाना, रामपुर व सेना अस्पताल में 1-1 है। इसके अलावा चार मामले रोहड़ू से सामने आए।  एक युवक का उपचार आइजीएमसी में हो रहा था, जिसकी रिपोर्ट शनिवार को पॉजिटिव पाई गई। वहीं मतियाना से पॉजिटिव पाया गया एक सेब व्यापारी है, जो क्वारंटाइन मथा। रामपुर में पॉजिटिव पाया गया व्यक्ति खनेरी अस्पताल का है। वह परमाणू से लौटा था।

कोरोना संक्रमित महिला ने दिया बच्चे को जन्म

नेरचौक मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों ने सीजेरियन से कोरोना संक्रमित महिला की डिलीवरी करवाई। महिला कुल्लू जिला से संबंधित हैं। बच्चे की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है। महिला के संक्रमित पाए जाने पर 14 अगस्त को  नेरचौक मेडिकल कॉलेज रेफर किया था। डॉक्टरों ने 15 अगस्त को सीजेरियन से डिलीवरी करवाने का निर्णय लिया। नेरचौक मेडिकल कॉलेज के स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. अनु नामग्याल, डॉ. सुशील, डॉ. चारुल राय सहित स्टाफ ने ऑपरेशन किया।  बच्चे की पहली कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब उसका फिर टेस्ट होगा। एमएस डॉ. जीवानंद चौहान ने बताया कि संक्रमित महिला का सफल प्रसव हुआ है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप