धर्मशाला, शिमला, जेएनएन। Himachal Coronavirus/Covid Cases Update, हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। एक्टिव केस एक बार फ‍िर से 1500 के करीब पहुंच गए हैं। मंगलवार को कोरोना के 220 नए पाजिटिव केस आए, जबकि 108 स्वस्थ हुए। अब एक्टिव केस बढ़कर 1414 हो गए हैं। मंडी में एक कोरोना संक्रमित की मौत हुई है। एक्टिव केस मंडी में 318, चंबा में 297 और कांगड़ा में बढ़कर 220 और शिमला में 204 हो गए हैं। मंडी में 58, चंबा में 48, शिमला में 32, हमीरपुर व कांगड़ा में 26-26, कुल्लू में 13, बिलासपुर में सात, लाहुल स्पीति में छह, सोलन व ऊना में दो-दो  नए मामले आए हैं।

शिमला और सोलन जिले में 31 लोग कोरोना संक्रमित

जिला शिमला और सोलन में मंगलवार को 31 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। शिमला जिले में 29 लोग संक्रमित पाए गए। जिले में मंगलवार को कोरोना संक्रमण के मामले अन्य दिनों के मुकाबले ज्यादा आए। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग ने लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है। वहीं सोलन जिले में मंगलवार को 1232 सैंपलों में से दो लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। जिले के सायरी व अर्की ब्लाक में एक-एक कोरोना संक्रमण का मामला सामने आया है। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डा. मुक्ता रस्तोगी ने कहा कि कोरोना संक्रमण को मात देने के लिए घर से बिना मास्क न निकलें। बाजार में शारीरिक दूरी के नियम का पालन करने के साथ हाथों को सैनिटाइज करते रहें।

तीन लोगों ने दी कोरोना को मात, दो नए केस

ऊना। जिला ऊना में मंगलवार को आरटीपीसीआर रिपोर्ट में दो लोग कोरोना संक्रमित आए। इसके अलावा तीन लोग कोरोना महामारी को मात देकर स्वस्थ हुए हैं। इससे जिले में सक्रिय मामलों की संख्या 46 रह गई है। इनमें से 25 लोग होम आइसोलेशन में हैं। राहत की बात यह है कि कोरोना संक्रमण की वजह से किसी भी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है। वहीं जिला के सीएमओ डा. रमन कुमार शर्मा ने बताया कि बनगढ़ बटालियन और बंगाणा क्षेत्र से एक-एक व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया है। सीएमओ ने लोगों से अपील की है कि कोरोना से बचाव के नियमों की कड़ाई से पालना करें। उन्होंने कहा कि लोग जब भी घर से निकलें, मास्क जरूर लगाएं। समय-समय पर हाथ धोने और सैनिटाइज करने के साथ ही शारीरिक दूरी के नियम का सख्ती से पालन करें। भीड़-भाड़ के क्षेत्र में दूर रहें, ताकि कोरोना संक्रमण से बचाव हो सके। वैक्सीन कोरोना से बचाव के लिए महत्वपूर्ण हथियार है। किसी भी तरह से तबीयत खराब होने के तुरंत बाद नजदीक के स्वास्थ्य केंद्र में जाकर टेस्ट करवाएं। भी कोरोना का संकट समाप्त नहीं हुआ है, इसलिए सभी को सावधानी रखनी चाहिए।

Edited By: Rajesh Kumar Sharma