धर्मशाला, जागरण संवाददाता। Himachal Congress Spokesperson Rajesh Sharma, कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता डा. राजेश शर्मा ने कहा कोरोना की आड़ में राज्य की भाजपा सरकार विकास कार्यों में भेदभाव कर रही है। उन्होंने केंद्रीय विश्वविद्यालय के मुद्दे पर सरकार को घेरते हुए कहा देहरा में तो भूमि संबंधी काम पूरा कर लिया है, लेकिन धर्मशाला के काम को जानबूझकर लटकाया जा रहा है। इस मुद्दे पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर स्पष्ट करें कि देहरा और धर्मशाला के लिए आखिर दोहरी नीति क्यों अपनाई जा रही है। एक दशक से लटकी इस महत्वकांक्षी परियोजना के कार्य को आखिर धर्मशाला में क्यों रोका जा रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकाल में धर्मशाला के जदरंगल में भूमि चयनित करके दे दी गई थी। अब केंद्र और राज्य में डबल इंजन की सरकार का दावा करने वाले भाजपा के लोग देहरा व धर्मशाला में डबल इंजन बनाने से क्यों घबरा रहे हैं।

दोनों स्थानों पर काम क्यों शुरू नहीं किया जा रहा है। कांगड़ा हिमाचल का सबसे बड़ा जिला है और इसकी अनदेखी किसी भी सूरत में सहन नहीं की जाएगी। भले ही कांगड़ा के भाजपा नेता इस मामले में लापरवाही दिखा रहे हों, लेकिन कांग्रेस के कार्यकाल में केंद्रीय विश्वविद्यालय बनाने का जो निर्णय हुआ था उसके लिए पार्टी इसके भवन निर्माण तक लड़ाई लड़ती रहेगी।

यह भी पढ़ें: तीसरी लहर में बच्चों को संक्रमण से बचाने व उपचार के निर्देश जारी, पांच वर्ष से कम के बच्चों को न पहनाए मास्क

 

उन्होंने कहा कि छात्र और युवाओं से सौतेला व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने सरकार से युवाओं को वैक्सीनेशन करने के लिए जल्द शेड्यूल तय करने और विकास कार्य में बिना भेदभाव के एक समान कार्य करने के लिए आवाज उठाई है। कांगड़ा की सभी महत्वाकांक्षी परियोजनाओं पर जयराम सरकार अपना स्टैंड स्पष्ट करें । अन्यथा आने वाले दिनों में जब हालात सामान्य होंगे तो कांग्रेस आंदोलन का रास्ता अख्तियार करेगी। कांगड़ा से भेदभाव किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : कोर कमेटी बैठक में चुनावी वर्ष तक का खाका तैयार करेगी हिमाचल भाजपा, उपचुनाव भी रहेगा अहम मुद्दा

Edited By: Rajesh Kumar Sharma