जसूर, जेएनएन। थ्रेशिंग के दौरान निकली चिंगारी से गेहूं की फसल राख हो गई है। अग्निकांड विकास खंड नूरपुर की पंचायत गहीं लगोड़ के गांव बागनी में हुआ है। यहां अजीत सिंह पुत्र मेहर सिंह ने करीब सोलह कनाल भूमि पर लगाई गेहूं की फसल काटकर थ्रेशिंग के लिए इकट्ठा की थी। मंगलवार सायं करीब चार बजे थ्रेशिंग की जा रही थी कि अचानक निकली चिंगारी से गेहूं की फसल जल गई। इस दौरान लोगों ने बड़ी मुश्किल से ट्रैक्टर और थ्रेशर को तो बचा लिया लेकिन गेहूं जल गई। इस बाबत जानकारी मिलते ही पंचायत प्रधान रमेश ¨सह ने मौके का जायजा लिया। उन्होंने बताया कि पीड़ित किसान अजीत ¨सह खेती के साथ-साथ मेहनत मजदूरी करता है। उन्होंने सरकार से पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता मुहैया करवाने की गुहार लगाई है।

भोग्रवां में जली गन्ने की फसल, लाखों का नुकसान

इंदौरा उपमंडल के मंड भोग्रवां में मंगलवार को दो किसानों की दो एकड़  खेत में खड़ी गन्ने की फसल आग की भेंट चढ़ गई। पीड़ित किसानों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ है। पीड़ित किसान एवं पूर्व  उपप्रधान  भोग्रवां पंचायत जगदीप व अक्षय ने बताया कि उन्होंने गन्ना मुकेरियां में बेचना था लेकिन फसल आग की भेंट गई है। बकौल जगदीप, वह दोपहर घर में बैठे थे कि अचानक गन्ने की फसल से धुआं निकलता हुआ नजर आया। इसके बाद उन्होंने शोर मचाया तो गांववासी भी खेतों में पहुंचे। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों के साथ आग पर काबू पाने का प्रयास किया पर सफलता नहीं मिली। उन्होंने प्रशासन से अपील की है कि आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस