शिमला, राज्य ब्यूरो। Coronavirus Peak, कोरोना पीक की ओर है और जल्द ही इसमें गिरावट आएगी ये बात कोई सामान्य व्यक्ति नहीं विशेषज्ञ कह रहे हैं। इसका वे प्रमाण भी दे रहे हैं कि कोरोना के मामलों में जल्द किस आधार पर गिरावट आएगी। आईजीएमसी के माइक्रोबायोलॉजी विभागध्यक्ष रहे डाक्टर अनिल कांगा ने बताया कोरोना पीक की ओर अग्रसर है और पीक पर भी माना जा सकता है। कोरोना संक्रमितों के बहुत अधिक मामले आने के बाद भी स्वस्थ होने की रफ्तार भी बहुत तेजी से बढ़ रही है। इससे हर्ड इम्यूनिटी की ओर बढ़ रहे हैं जिससे कोरोना के मामलोंं में एक दम गिरावट आएगी। कोरोना को हराने के लिए आवश्यक है कि लोग मास्क का सही तरीके से इस्तेमाल करें और भीड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें।

डा. कांगा ने बताया जिस तेज गति से कोरोना का संक्रमण फैल रहा है, उतनी ही तेज गति से इसमें गिरावट भी आएगी। बीते वर्ष की तरह यह बहुत अधिक लंबा समय नहीं लेगा। हिमाचल प्रदेश में बीते डेढ़ माह के दौरान कोरोना की पहली लहर के पीक पर होने के दौरान पांच सौ से आठ सौ तक मामले आ रहे थे। किसी दिन एक हजार से भी अधिक मामले आए। अब रफ्तार इतनी बढ़ गई है कि 1500 से दो हजार तक मामले आ रहे हैं। इसी वर्ष मार्च के पहले सप्ताह से कोरोना ने यह तेज रफ्तार पकड़ी है।

छह हफ्ताें में 11 गुणा बढ़े कोरोना मामले तो स्वस्थ होने वालों की रफ्तार 12 गुणा

प्रदेश में बीते छह सप्ताह के दौरान कोरोना के संक्रमण की रफ्तार 11 गुणा तक पहुंच गई है, जबकि स्वस्थ होने वालों की दर में 12 गुणा से अधिक हुई है। यही कारण कोरोना संक्रमितों की संख्या के बढ़ने के बावजूद प्रदेश में स्वस्थ होने की दर 84 फीसद से अधिक है।

प्रदेश में 15 मार्च से 18 अप्रैल तक कह काेरोना को लेकर स्थिति

  • कब से कब तक, नए मामले, स्वस्थ, मृत्यु, एक्टिव मामले
  • 15 से 21 मार्च, 1003, 490, 12, 1256
  • 22 से 28 मार्च, 1982, 739, 18, 2478
  • 29 मार्च से 04 अप्रैल, 2584, 1442, 35, 3577
  • 05 से 11 अप्रैल, 4444, 2490, 45, 5369
  • 12 से 18 अप्रैल, 6689, 3289, 75, 8696
  • 19 से 25 अप्रैल, 11126, 6077, 145, 13577