गगल, जेएनएन। गगल स्थित कांगड़ा हवाई अड्डा के विस्‍तारीकरण के विरोध में लोग उग्र हो गए हैं। आसपास की पंचायतों के सैकड़ों लोग शनिवार को सड़क पर उतर अाए। हवाई अड्डे के विस्‍तारीकरण को लेकर सीएम के स्‍पष्‍ट रुख के बाद लोगों में आक्रोश बढ़ गया है। लोगों का तर्क है कि सीएम साहब शिमला के हवाई अड्डे का विस्‍तारीकरण कर लें। शनिवार को हुए प्रदर्शन में सहौड़ा पंचायत के प्रधान विजय कुमार, गगल पंचायत के प्रधान रविंद्र समेत अन्‍य जनप्रतिनिधि भी शामिल रहे।

गगल स्थित कांगड़ा हवाई अड्डे के बाहर एकत्र होकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते आसपास की पंचायतों के लोग। लोग हवाई अड्डा विस्‍तारीकरण का विरोध कर रहे हैं। कांगड़ा हवाई अड्डा के गगल स्थित मुख्‍य गेट के बाहर सैकड़ों लोग एकत्र हुए। लोगों ने हवाई अड्डा विस्‍तारीकरण के विरोध में काले झंडे लेकर प्रदर्शन किया।

दरअसल शीतकालीन प्रवास के दौरान सीएम जयराम ठाकुर ने एयरपोर्ट विस्‍तारीकरण को स्थिति स्‍पष्‍ट कर दी है। सीएम ने कहा है कि हवाई अड्डे का विस्‍तार समय की जरूरत है। उन्‍होंने कांगड़ा में आयोजित जनसभा में कहा कि हवाई अड्डे पर बोइंग विमान उतरे यह उनका सपना है। विस्‍तारीकरण को रुख स्‍पष्‍ट करने के बाद विस्‍थापन की जद में आ रहे लोग इसके विरोध में उग्र हो गए हैं।

शनिवार को हुए प्रदर्शन में गगल, सहौड़ा, इच्‍छी समेत आसपास लगती पंचायतों के विभिन्‍न गांवों के सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। लोगों ने हाथों में काले झंडे लेकर एयरपोर्ट के विस्‍तार करने का विरोध किया। इस प्रदर्शन में महिलाएं भी भारी संख्‍या में जुटीं।

सरकार अब 3110 मीटर लंबी पट्टी बनाने की बात कर रही है, इससे अनुमानित 900 से ज्‍यादा परिवार बेघर हो सकते हैं। सीएम के बयान के बाद कांगड़ा के विधायक पवन काजल ने भी इसका विरोध शुरू कर दिया है। शुक्रवार को विधायक पवन काजल ने प्रेस कांफ्रेंस कर सीएम के बयान का विराेध किया था और शनिवार को सैकड़ों लोग सड़कों पर उतार आए।

Posted By: Rajesh Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस