मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

धर्मशाला, जेएनएन। नगरोटा सूरियां क्षेत्र में वन विभाग के वन्य प्राणी ¨वग के गार्ड को विजिलेंस ने मंगलवार को फर्जीबाड़े से कामगारों के पैसे निकालते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया है। विजिलेंस धर्मशाला ने आरोपित वनरक्षक रमेश चंद को नगरोटा सूरियां के एक बैंक के पास 90 हजार रुपये की नकदी सहित गिरफ्तार किया है। आरोपित को बुधवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा। नगरोटा सूरियां में विभाग की ओर से विभिन्न कार्य वाइल्ड लाइफ के अधिकारियों और कर्मचारियों के माध्यम से करवाए जाते थे। इसके बाद विभाग के लाखों रुपए के बजट को ऑनलाइन ही मजदूरों के खाते में ट्रांसफर किया जाता था।

आरोपित ने अपने स्तर पर ही कई लोगों को कार्य करने वाले के रूप में दर्शाया था। उक्त गार्ड द्वारा मजदूर के खाते से पैसे निकलवाकर खुद प्राप्त कर लिए जाते थे, उन्हें नाम मात्र के पैसे देकर काम चला रहा थे। रमेश चंद के इस भ्रष्टाचार को लेकर क्षेत्र के एक व्यक्ति ने विजिलेंस में शिकायत की थी। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए मंगलवार को धर्मशाला से विजिलेंस टीम ने जाल बिछाया और नगरोटा सूरियां स्थित शिकायतकर्ता के बैंक खाते से निकाले 90 हजार रुपये समेत रंगेहाथ गिरफ्तार किया।

इस तरह से नगरोटा सूरियां क्षेत्र में कई मामलों में भी संलिप्तता होने की सूचना मिल रही है और ऐसे मामलों में कई लोग भी शामिल हैं, क्योंकि बिना खाताधारक के बैंक से पैसे कैसे निकल जाते थे और इतने बड़े स्तर को घोटाले को अकेला गार्ड ही कैसे अंजाम दे सकता है। उधर, पुलिस अधीक्षक उत्तरी क्षेत्र विजिलेंस अरूल कुमार ने बताया कि रमेश कुमार वाइल्ड लाइफ गार्ड को रंगेहाथ 90 हजार लेते हुए पकड़ा गया है। मामले को लेकर जांच की जा रही है। इसके अन्य पहलू भी जल्द उजागर होंगे। आरोपित बुधवार को धर्मशाला में न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप