लाइव रिपोर्ट

दिन : सोमवार, समय : दिन में साढ़े नौ बजे, स्थान : केंद्रीय विद्यालय योल छावनी

--------------

दोबारा स्कूल खुलने पर छात्रों के चेहरे पर रौनक दिखी। केंद्रीय विद्यालय योल छावनी में भी छात्रों में उत्साह दिखा। दसवीं व जमा दो कक्षा के 90 फीसद छात्र स्कूल पहुंचे। दो गेट से दोनों कक्षाओं के छात्रों को कक्षाओं में भेजा गया। सरकार की ओर से जारी एसओपी के तहत गेट पर छात्रों की थर्मल स्कैनिंग व हाथों को सैनिटाइज करवाया गया। इसके बाद छात्रों को कक्षाओं में शारीरिक दूरी रखकर बिठाया गया। पहले दिन स्कूल आने पर छात्रों के चेहरे पर खुशी दिखी।

प्रस्तुति : सुरेश कौशल, योल

-----------

काफी समय बाद स्कूल खुलने से ऐसा लग रहा है कि हम कहीं दूर चले गए थे और अब फिर अपनी दुनिया में लौट आए हों। सहपाठियों से मिलकर खुशी का एहसास हुआ है।

-राधव, छात्र

-----------

कोविड काल में आनलाइन पढ़ाई से नई तकनीक उपयोग करने का मौका तो मिला, लेकिन जो स्कूल में पढ़ाई से सीखा जा सकता है वह आनलाइन से संभव नहीं है।

-शिवाशिक, छात्र

--------

आफलाइन पढ़ाई से बहुत कुछ सीखने को मिलता है। अध्यापकों के साथ विचार साझा किए जा सकते हैं और संयुक्त माहौल में आगे बढ़ने का मौका मिलता है।

-अनिश कुमारी, छात्रा

----------

प्रेक्टिकल आनलाइन नहीं हो सकते हैं। ऐसा करने से मेधावी छात्र पिछड़ जाते हैं। काफी अर्से बाद स्कूल आने पर अच्छा लग रहा है।

-मानवी, छात्रा

----------

स्कूल में सरकार की ओर से जारी एसओपी के तहत छात्रों को प्रवेश दिया गया है। शारीरिक दूरी रखने के लिए अलग-अलग गेट से छात्रों को प्रवेश दिलाया गया।

-गिरीश शर्मा, प्रधानाचार्य, केंद्रीय विद्यालय योल

Edited By: Jagran