धर्मशाला, जागरण संवाददाता। विधानसभा क्षेत्र धर्मशाला के तहत अपर सकोह में शुक्रवार देर रात एक मकान में अचानक आग लग गई और लाखों रुपये का नुकसान हो गया है। इस दौरान मकान की ऊपरी मंजिल में रखे गैस सिलेंडर में धमाका हो गया। गनीमत यह रही कि परिवार के सदस्यों ने ऊपरी मंजिल पर सोए मुखिया को समय रहते उठा दिया और सिलेंडर में धमाका होने से पूर्व वे बाहर आ गए थे। सकोह में बटालियन रोड स्थित प्रेम चंद के मकान में शुक्रवार देर रात करीब तीन बजे अचानक आग लग गई।

इसके कुछ देर बाद मकान की छत जहां रसोईघर था, वहां रखे गैस सिलेंडर ने आग पकड़ ली और फट गया। पीड़ित परिवार ने इस बाबत सूचना तुरंत फायर ब्रिगेड को दी। आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट माना जा रहा है। सिलेंडर यदि निचले कमरे में होता तो नुकसान और ज्यादा हो सकता था। प्रेम चंद के बेटे राजेश कुमार ने बताया कि अग्निकांड से सारा सामान जल गया है और लाखों रुपये का नुकसान हुआ है।

आरोप लगाया कि बार-बार फोन करने के बावजूद फायर ब्रिगेड कर्मचारी काफी देर बाद पहुंचे। उन्होंने बताया कि अलमारी में रखे छह लाख रुपये के गहने भी नहीं मिल पाए हैं। शनिवार दोपहर तहसीलदार धर्मशाला जीवन कुमार ने नुकसान का जायजा लिया। उन्होंने मौके पर पीड़ित परिवार को प्रशासन की ओर से 10 हजार रुपये की फौरी राहत प्रदान की है। कहा कि नुकसान का आकलन कर और सहायता प्रदान की जाएगी।

उधर, फायर ऑफिसर एसके चौधरी ने बताया कि कार्यालय में सूचना मिलने के पांच से सात मिनट के भीतर गाड़ी पहुंच गई थी, लेकिन गाड़ी पहुंचने से पहले ही सिलेंडर में धमाका हो चुका था। उन्होंने कहा कि अगर समय पर गाड़ी नहीं पहुंचती तो आग साथ लगते घरों को भी चपेट में ले सकती थी। टीम ने 30 लाख की संपत्ति को बचा लिया है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस